पाक पंजाब ने अमरीका से किए समझौते रद्द किए

नवाज़ शरीफ़

नवाज़ ने भी ऐबटाबाद में अमरीकी कार्रवाई का विरोध किया है.

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत ने ओसामा बिन लादेन की मौत के विरोध में अमरीका के साथ हुए सहायता संबंधी छह समझौतों को रद्द करने का फ़ैसला लिया है.

पाकिस्तानी सरकार ने अल क़ायदा के प्रमुख ओसामा बिन लादेन की मौत को चरमपंथ के ख़िलाफ़ बड़ी सफ़लता बताया था लेकिन ऐबटाबाद में हुई अमरीकी कार्रवाई को संप्रभुत्ता का उल्लंघन क़रार दिया था.

पंजाब की प्रांतीय सरकार ने भी उस कार्रवाई का कड़ा विरोध किया था और उसने केंद्र सरकार की कड़ी आलोचना की थी.

पंजाब के क़ानून मंत्री राणा सनाऊल्लाह ने लाहौर में पत्रकारों को बताया कि अमरीका के साथ समझौते ख़त्म करने का फ़ैसला मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ़ की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया है.

उन्होंने कहा, "हमारी प्रांतीय सरकार ने स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में अमरीका के साथ छह समझौते किए थे जो अब रद्द करने का फ़ैसला लिया गया है. वह इन क्षेत्रों में साहयता करना चाहता था."

हमारी प्रांतीय सरकार ने स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में अमरीका के साथ छह समझौते किए थे जो अब रद्द करने का फ़ैसला लिया गया है. वह इन क्षेत्रों में साहयता करना चाहता था.

राणा सनाऊल्लाह, क़ानूनमंत्री, पंजाब

उन्होंने आगे कहा, "हमने अपने फ़ैसले से सभी संबधित विभागों को सूचित कर दिया है और यह फ़ैसला ऐबटाबाद घटना के विरोध में लिया गया है."

उनके मुताबिक़ अमरीका अगले तीन सालों में कल्याणकारी परियोजनाओं के लिए 20 अरब रुपय पंजाब सरकार को देना चाहता था.

'अंतरराष्ट्रीय साहयता अस्वीकार्य'

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ़ ने प्रांत के लिए अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सहायता स्वीकार न करने की घोषणा की थी.

ग़ौरतलब है कि पंजाब प्रांत में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ की पार्टी मुस्लिम लीग नवाज़ की सरकार है जो केंद्र में विपक्षी पार्टी है.

मुस्लिम लीग नवाज़ ने ओसामा बिन लादेन के ख़िलाफ़ कार्रवाई का कड़ा विरोध किया था और इस संबंध में पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई की भूमिक पर भी कई सवाल उठाए थे.

ग़ौरतलब है कि दो मई को पाकिस्तान के शहर ऐबटाबाद में अमरीकी सेना ने कार्रवाई कर अल क़ायदा के प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मार दिया था.

पाकिस्तान ने उस कार्रवाई का कड़ा विरोध किया था क्योंकि अमरीका ने पाकिस्तानी सरकार को बिना बताए वो कार्रवाई की थी जिसके बाद दोनों देशों के संबंध तनावपूर्ण हे गए हैं.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.