पाक ड्रोन हमलों में 15 की मौत

ड्रोन-जनाज़ा (फ़ाईल) इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption पाकिस्तान के क़बायली इलाक़ों में अमरीकी ड्रोन हमलों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन भी हुए हैं.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े दक्षिण वज़ीरिस्तान में अलग-अलग अमरीकी मानवरहित विमानों या ड्रोन हमले में 15 लोग मारे गए और कई अन्य घायल हैं.

स्थानीय प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी ने बीबीसी संवाददाता दिलावर ख़ान वज़ीर को बताया कि वाना में ड्रोन विमानों ने चरमपंथियों के एक ठिकाने को निशाना बनाया था. चमरंपथियों के ठिकाने पर दो मिसाईल फ़ायर किए गए जिसमें वो पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया.

अधिकारी के मुताबिक़ चरमपंथियों का यह केंद्र घने जंगल में एक पहाड़ के बग़ल में था जिसका इस्तेमाल कहीमुल्लाह और बैतुल्लाह महसूद गुट के चरमपंथी पिछले साल भर से कर रहे थे.

उन्होंने बताया कि मरने वाले सभी 12 चरमपंथियों का संबंध प्रतिबंधित तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान से बताया जा रहा है.

लेकिन अभी तक यह स्पष्ट नहीं कि मरने वालों में कोई वरिष्ठ चरमपंथी है या नहीं.

शवाल

इस हमले के कुछ घंटों पहले उत्तर और दक्षिण वज़ीरिस्तान और अफ़गानिस्तान की सीमा के पास एक अमरीकी ड्रोन विमान के हमले में तीन चरमपंथी मारे गए जबकि दो घायल हो गए थे.

अधिकारियों के मुताबिक़ अफ़ग़ानिस्तान की सीमा से लगे इस इलाक़े में ड्रोन ने एक संदिग्ध वाहन को निशाना बनाया था.

उन्होंने बताया कि दो मिसाईलों की मार में आया वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया.

हालांकि ये साफ़ नहीं कि मरनेवालों तीन लोगों का संबंध किस गुट से था.

स्थानीय लोगों का कहना है कि वाहन पाकिस्तान के शवाल की सीमा के पार जा रहा था कि तभी अमरीकी ड्रोन ने उस पर हमला कर दिया.

यह ड्रोन हमले ऐसे समय पर हुए हैं जब अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि पिछले चंद दिनों में पाकिस्तानी सरज़मीन से अफ़ग़ानिस्तान के इलाक़ों पर 450 रॉकेट फ़ायर किए गए जिसमें 12 बच्चों सहित 36 लोग मारे गए.

पाकिस्तान ने इन आरोपों का खंडन किया है.

संबंधित समाचार