'अभियान से हज़ारों परिवार विस्थापित'

कुर्रम एजेंसी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption पाकिस्तान सेना ने कुर्रम एजेंसी में अभियान शुरु कर दिया है.

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) का कहना है कि पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े कुर्रम एजेंसी में चरमपंथियों के ख़िलाफ़ जारी सैन्य अभियान से नौ हज़ार परिवार विस्थापित हुए हैं.

संस्था के प्रवक्ता आर्याना रोमेरी ने बीबीसी से बातचीत करते हुए आशंका जताई कि सैन्य अभियान की वजह से कुर्रम एजेंसी से विस्थापितों की संख्या 12 हज़ार परिवारों तक पहुँच सकती है.

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि ताज़ा अभियान से करीब 50 हज़ार लोग विस्थापित हुए हैं.

आर्याना रोमेरी ने बताया, “हम ने कुर्रम में सदा नामक स्थान पर विस्थापित परिवारों के लिए एक शिविर बनाया है. जिसमें सात सौ परिवार रह रहे हैं और दो सौ परिवार सरकारी स्कूलों में रहने पर मजबूर हैं.”

कार्रवाई

उन्होंने कहा कि यूएनएचसीआर के शिविरों में रहने वाले विस्थापितों में बड़ी संख्या बच्चों और महिलाओं की है और ज़्यादातर लोग अपने रिश्तेदारों के पास रह रहे हैं.

कुर्रम एजेंसी पाकिस्तान का क़बायली इलाक़ा है और 1998 की जनगणना के मुताबिक़ इलाक़े की जनसंख्या साढ़े चार लाख के करीब थी और अब बढ़ कर छह लाख तक पहुँच चुकी होगी.

पाकिस्तानी सेना ने कुर्रम एजेंसी में चरमपंथियों के ख़िलाफ़ व्यापक स्तर पर अभियान छेड़ा है जिसमें सैकड़ों जवान भाग ले रहे हैं.

कुर्रम एजेंसी की सीमाएँ अफ़ग़ानिस्तान के प्रांतों नंगरहार, पकतिया और ख़ोस्त से मिलती हैं.

संबंधित समाचार