प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'मुझे भारतीय विमान गिराने पर खेद है'

भारत पाकिस्तान के बीच 1965 में हुए युद्ध के दौरान गिराए गए एक भारतीय नागरिक विमान के पायलट की बेटी से पाकिस्तानी पायलट ने ईमेल लिखकर संवेदना प्रकट है.

क़ैस हुसैन नाम के इस पाकिस्तानी पायलट ने 1965 के युद्ध में मारे गए जहांगीर इंजीनियर नाम के भारतीय पायलट की बेटी फ़रीदा सिंह से ई-मेल के ज़रिए क्षमा मांगी है.

युद्ध के दौरान एक भारतीय मालवाहक जहाज़ रन ऑफ़ कच्छ में भारत-पाकिस्तान सीमा पर घूम रहा था. क़ैस हुसैन ने इस भारतीय विमान को मार गिराया था.

फ़रीदा सिंह को लिखी ईमेल में हुसैन ने विस्तार से उस दिन के घटनाक्रम का विवरण दिया है. क़ैस हुसैन ने बीबीसी संवाददाता हफ़ीज़ चाचड़ की बातचीत की है.