रब्बानी हत्या की जाँच में सहयोग का वादा

गिलानी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption बुर्हानुद्दीन रब्बानी की हत्या के बाद प्रधानमंत्री ने काबुल का दौरा किया था और इसकी कड़ी निंदा की थी.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने अफ़ग़ानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति बुरहानुद्दीन रब्बानी की मौत की जाँच में ख़ुफ़िया जानकारी देने का वादा किया है.

उन्होंने क्वेटा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि पूर्व राष्ट्रपति बुरहानुद्दीन रब्बानी की मौत पर पाकिस्तान को बहुत सदमा पहुँचा था और उनकी मौत की जाँच में सहयोग का प्रस्ताव दिया था.

उन्होंने कहा, “हम बुरहानुद्दीन रब्बानी की मौत की जाँच में अफ़ग़ानिस्तान को ख़ुफ़िया जानकारी देना चाहते हैं ताकि उन तत्वों को सामने लाया जा सके जिन्होंने रब्बानी की हत्या की.”

प्रधानमंत्री ने बताया कि पाकिस्तान इस क्षेत्र से आतंकवाद और चरमपंथ के ख़ात्मे के लिए अफ़ग़ानिस्तान के साथ एक साझा रणनीति पर काम कर रहा है.

उन्होंने कहा कि दोनों देश इस समय आतंकवाद और चरमपंथ का शिकार हैं और दोनों को इस के ख़ात्मे के लिए मिल काम करने की ज़रुरत है.

'बलूचिस्तान पर चिंता'

पाकिस्तान और अमरीका के बीच संबंधों पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और समय बीतने के साथ-साथ इसमें और बहतरी आ रही है.

प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने बलूचिस्तान प्रांत की स्थिति पर चिंता व्यक्त की और कहा कि कुछ तत्व शांति का विरोध कर रहे हैं जो प्रांत के आर्थिक विकास में सबसे बड़ी बाधा है.

उन्होंने बताया कि जो लोग प्रांत में शांति स्थापित करने में रुकावट डाल रहे हैं, वही अपने लोगों को नुक़सान पहुँचा रहे हैं.

यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने कहा कि इस समस्या के समाधान के लिए सरकार असहमत बलोच नेताओं से बातचीत करने के लिए तैयार है.

संबंधित समाचार