जाँच आयोग को अल क़ायदा की धमकी

ओसामा का घर इमेज कॉपीरइट AP
Image caption जाँच आयोग ने बुधवार को उस घर का दौरा किया था जिसमें ओसामा बिन लादेन को मारा गया था

अल क़ायदा के प्रमुख ओसामा बिन लादेन की पाकिस्तान में उपस्थिति और मौत की जाँच कर रहे आयोग को अल क़ायदा की ओर से धमकी देकर काम बंद करने को कहा गया है.

इस धमकी में कहा गया है कि यदि काम बंद न किया गया तो आयोग के सदस्य को अग़वा कर लिया जाएगा.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने अपना नाम ज़ाहिर न करने की शर्त पर बीबीसी को बताया कि यह धमकी उस वक़्त मिली जब जाँच आयोग उस घर का दौरा करने के लिए ऐबटाबाद रवाना हो रहा था जिसमें ओसामा बिना लादेन को अमरीकी सैनिकों ने मार दिया था.

ग़ौरतलब है कि एक और दो मई की दरमियानी रात को अमरीकी सैनिकों ने ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह के शहर ऐबटाबाद में एक गुप्त अभियान कर अल क़ायदा के प्रमुख ओसामा बिना लादेन को मार दिया था.

उनकी मौत के तुरंत बाद भारी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद पाकिस्तानी सरकार ने ओसामा की पाकिस्तान में मौजूदगी और उनकी मौत की जाँच के लिए सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस जावेद इक़बाल की अध्यक्षता में एक जाँच आयोग का गठन किया था.

'सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की जाए'

सूत्रों का कहना है कि आयोग के अधिकारियों को भेजे गए एक पत्र के मुताबिक़ अल क़ायदा जाँच आयोग के एक सदस्य को अग़वा कर आयोग के काम को बाधित करना चाहता है.

उसके बाद ख़ुफ़िया विभाग ने आयोग के अधिकारियों से कहा कि वह अपनी सुरक्षा पर विशेष तौर ध्यान दें और सुरक्षा व्यवस्था को और कड़ा कर दें.

चार सदस्यीय आयोग ने बुधवार को ऐबाटाबाद स्थिति उस घर का दौरा किया था जिसमें ओसामा बिन लादेन कई सालों से रह रहे थे और अमरीकी सैनिकों की कार्रवाई में उनकी मौत हो गई थी.

जाँच आयोग ने पिछले छह महीनों के दौरान सैन्य अधिकारियों और इस मामले के जुड़े दूसरे लोगों के बयान रिकॉर्ड किए हैं.

संबंधित समाचार