नग्न तस्वीरः अदालत जाएंगी वीना मलिक

 सोमवार, 5 दिसंबर, 2011 को 21:23 IST तक के समाचार
वीना मलिक

'एफ़एचएम इंडिया' को सभी संस्करण वापिस लेने और बीस लाख डॉलर यानि लगभग 10 करोड़ रुपए हर्जाने के तौर पर देने के लिए कहा गया है.

चर्चित पाकिस्तानी अभिनेत्री वीना मलिक पुरुषों की एक अंतरराष्ट्रीय पत्रिका के भारतीय संस्करण में छपी नग्न तस्वीर के मामले में अदालत में जा रही हैं.

उनके वकील अयाज़ बिलावाला ने बीबीसी को बताया कि वीना मलिक अपनी तस्वीर के साथ 'छेड़छाड़' किए जाने पर ख़ुद को ठगा महसूस कर रही हैं.

'एफ़एचएम इंडिया' को सभी संस्करण वापस लेने और 20 लाख डॉलर यानी लगभग 10 करोड़ रुपए हर्जाने के तौर पर देने के लिए कहा गया है.

पत्रिका के संपादक कबीर शर्मा ने बीबीसी को बताया कि यह सारे दावे झूठे हैं और उनके पास सच्चाई साबित करने के लिए वीडियो है.

'एफ़एचएम इंडिया' में छपी वीना मलिक की नग्न तस्वीर में उनकी बाँह पर बड़े अक्षरों में 'आईएसआई' लिखा हुआ है.

इस तस्वीर के नग्न होने और बाँह पर आईएसआई लिखे होने से पाकिस्तान में सनसनी फैल गई है.

आरोप

बिलावाला ने कहा, ''वीना मलिक के साथ धोखा हुआ है और उन्हें ठगा गया है. उन्होंने फोटोशूट किया था लेकिन उसमें कोई नग्नता नहीं थी. उन्होंने कुछ कपड़े पहने थे.''

उन्होंने कहा, ''जो तस्वीरें उन्हें स्वीकृति के लिए दिखाई गई, उनमें उन्होंने कपड़े पहन रखे थे. उनकी छवि को नुक़सान पहुँचा है और हम पत्रिका को दुकानों से वापस करने और हर्जाने की माँग कर रहे हैं.''

क़ानूनी पत्र में कहा गया है कि पत्रिका ने जानबूझ कर वीना मलिक को कपड़े पहन कर तस्वीरें खींचने के लिए ललचाया और फिर उन्हें धोखा देने के इरादे से उन तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ की.'

"वीना मलिक के साथ धोखा हुआ है और उन्हें ठगा गया है. उन्होंने फोटोशूट किया था लेकिन उसमें कोई नग्नता नहीं थी. उन्होंने कुछ कपड़े पहने थे"

वीना मलिक के वकील

एफ़एचएम पत्रिका के संपादक ने माना कि उन्हें क़ानूनी पत्र मिल गया है.

उन्होंने कहा, ''हमने क़ानूनी पत्र को देखा है और अपने क़ानूनी विभाग को आगे की कार्रवाई के लिए भेज दिया है. सभी आरोप झूठे हैं और हम जवाबी मुक़दमे समेत कई विकल्प देख रहे हैं.''

कबीर शर्मा ने बीबीसी का बताया कि वीना मलिक की बाँह पर आईएसआई लिखने का विचार उन्हें आया था और उसे बड़े अक्षरों में लिखने का आइडिया वीना का था.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.