सेना प्रमुख को हटाने की कोई योजना नहीं: गिलानी

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption सेना प्रमुख जनरल अश्फ़ाक परवेज़ कयानी तथा आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल अहमद शुजा पाशा.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने इन अफवाहों से इंकार किया है कि वो सेना और आईएसआई प्रमुख को हटाने की योजना बना रहे हैं.

ग़ौरतलब है कि सेना के कथित तौर पर सत्ता अपने कब्जे में लेने से संबंधित गोपनीय ज्ञापन (मेमोगेट) को लेकर सरकार और सेना में जारी गतिरोध के बीच पाकिस्तानी मीडिया में यह रिपोर्ट आईं कि गिलानी सेना प्रमुख जनरल अश्फ़ाक परवेज़ कयानी तथा आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल अहमद शुजा पाशा को हटाने पर गंभीरता से विचार कर रही हैं.

सेना प्रमुख पहले ही लोकतांत्रिक सरकार को गिराने संबंधी इन बातों से इंकार कर चुके हैं. इस बीच पाकिस्तानी के राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी और प्रधानमंत्री ने आम लोगों से ‘लोकतंत्र के आगे बंदूक को झुकाने’ जैसी कई बातें हाल-फिलहाल में कही हैं.

'तख़्ता पलट'

यही वजह है कि यूसुफ़ रज़ा गिलानी की ओर से पिछले सप्ताह सेना की आलोचना के बाद पाकिस्तानी मीडिया में दोनों जनरलों को पद से हटाने को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं.

हालांकि इन कयासों को बेबुनियाद क़रार देते हुए गिलानी ने कहा, ''यहां तक ये सवाल है कि सरकार खुफ़िया एजेंसी आईएसआई के प्रमुख शुजा पाशा और सेना प्रमुख जनरल कयानी को हटाने का मन बना रही है, मैं यही कहूंगा कि ये सब बेवकूफ़ी भरी बातें हैं.''

पाकिस्तान में सेना एक मज़बूत संस्थान के रुप में स्थापित और सेना की ओर से अब तक तीन बार तख़्ता पलट किया जा चुका है.

संबंधित समाचार