पाकिस्तान में धमाका, 20 लोगों की मौत

ख़ैबर एजेंली इमेज कॉपीरइट AP
Image caption ख़ैबर एजेंसी में सरकार के समर्थक क़बायली लोगों ने चरमपंथियों के ख़िलाफ़ अभियान छेड़ रखा है.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े ख़ैबर एजेंसी में अधिकारियों का कहना है कि बाज़ार में हुए बम धमाके में 20 लोग मारे गए हैं और 30 घायल हो गए.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने पेशावर स्थित बीबीसी संवाददाता दिलावर ख़ान वज़ीर को बताया कि ख़ैबर एजेंसी के तालुक़ा जमरूद में एक धमाका हुआ, जिसमें ये लोग हताहत हुए.

उन्होंने बताया कि मरने वालों में बच्चे और महिलाएँ भी शामिल हैं और स्थानीय प्रशासन ने घायलों को पेशावर के अस्पतालों में भर्ती कराया.

उनके मुताबिक़ धमाके में कई गाड़ियाँ भी नष्ट हो गई हैं और पता चला है कि बम एक गाड़ी में रखा हुआ था.

बताया जाता है कि जिस जगह धमाका हुआ है वह सरकार समर्थक क़बायली लोगों का इलाक़ा है और इन्हीं लोगों ने कुछ समय पहले सरकार के कहने पर चरमपंथियों के साथ लड़ाई की थी.

स्थानीय लोगों ने बीबीसी को बताया कि मरने वालों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो सकती है क्योंकि जिस जगह पर धमाका हुआ, उस समय वहाँ लोगों की भीड़ थी.

'हमलों में फिर बढ़ोत्तरी'

ग़ौरतलब है कि पाकिस्तान में पिछले कुछ समय से आत्मघाती हमलों और हिंसक कार्रवाइयों में कमी आ रही थी लेकिन अब इन घटनाओं में फिर बढ़ोत्तरी हो रही है.

इससे पहले अधिकारियों के मुताबिक़ क़बायली इलाक़े उत्तर वज़ीरिस्तान में एक पहाड़ी नाले से 15 सैनिकों के शव मिले थे.

इन अर्धसैनिक बलों को 23 दिसंबर 2011 को ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह के दक्षिणी ज़िले टाँक से अग़वा किया गया था.

24 दिसंबर को ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत के ज़िले बन्नू में अर्धसैनिक बलों के दफ़्तर पर हुए आत्मघाती हमले में छह सुरक्षाकर्मी मारे गए थे और 15 अन्य घायल हो गए थे.

संबंधित समाचार