मैं सिर्फ़ संसद को जवाबदेह हूं: गिलानी

यूसुफ़ रज़ा गिलानी (फ़ाइल) इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption यूसुफ़ रज़ा गिलानी के बयान को उनके रूख़ में कड़ाई के तौर देखा जा रहा है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने कहा है कि वो सिर्फ़ संसद को जवाबदेह हैं और किसी भी व्यक्ति विशेष को किसी तरह की सफ़ाई नहीं देंगे.

रविवार को पंजाब सुबे के दौरे पर गए यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री और मंत्री संसद को जवाबदेह हैं और अगर किसी को कोई शिकायत होगी तो वो उस शख़्श को नहीं बल्कि संसद के समक्ष जवाब पेश करेंगे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि संसद जब भी चाहेगी वो अपना पक्ष उसके सामने पेश करेंगे.

यूसुफ़ रज़ा गिलानी के ताज़ा रूख़ को शनिवार को दिए गए उनके उस बयान के बाद अपने रवैये में कड़ाई लाने के प्रयास के तौर पर देखा जा रहा है.

तल्ख़ी

शनिवार को रक्षा समिति की एक बैठक के बाद उन्होंने सेना की तारीफ़ की थी जिसके बाद कहा गया था कि उनका बयान नागरिक सरकार और फ़ौज के बीच हाल के दिनों में पैदा हो गई तल्ख़ी को कम करने के प्रयास का हिस्सा थी.

रविवार को मिडिया के साथ बातचीत में उन्होंने ये भी कहा कि राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने कुछ जगहों पर आई उस ख़बर से इंकार किया है जिसमें कहा गया था कि सेनाध्यक्ष जनरल अशफ़ाक़ कियानी ने उनसे प्रधानमंत्री के एक अख़बार को दिए गए साक्षात्कार में दिए गए बयानों की शिकायत की थी.

मुलाक़ात

सेना ने पिछले सप्ताह एक बयान जारी कर प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी के उस इंटरव्यू पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी, जिसमें प्रधानमंत्री ने मेमो विवाद के मामले में सेनाध्यक्ष और आईएसआई के प्रमुख की ओर से जवाब पेश करने को ग़ैरक़ानूनी बताया था.

कहा गया था कि ये बात जनरल कियानी ने राष्ट्रपति से शनिवार को हुई बैठक के दौरान भी उठाई थी.

लेकिन यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने जब पूछा गया कि मेमोगेट कांड के प्रमुख किरदार मंसूर एजाज़ पाकिस्तान पहुंच चुके हैं तो उन्होंने इसपर किसी तरह की प्रतिक्रिया देने से परहेज़ किया.

संबंधित समाचार