गूगल का पिक्सल फोन

इमेज कॉपीरइट Google
Image caption गूगल का नया पिक्सल स्मार्टफ़ोन

तकनीकी दिग्गज कंपनी गूगल ने दो नए स्मार्टफ़ोन पिेक्सल और पिक्सल एक्सएल लॉन्च किए हैं. कंपनी ने इसके अलावा कई दूसरे हार्डवेयर उत्पाद भी बाजार में उतारे हैं.

एंड्रॉयड फोन के विपरीत पिेक्सल और पिक्सल एक्सएल रिलीज होते ही ऑपरेटिंग सिस्टम और सिक्युरिटी अपडेट को अपने आप इंस्टॉल कर लेगा.

पिक्सल की कीमत रुपए में करीब 50 हजार (599 डॉलर) और पिक्सल एक्सएल की कीमत 61 हजार रुपए (719 डॉलर) रखी गई है.

इनकी ब्रिकी 20 अक्टूबर को शुरू होने वाली है.

गूगल ने खास हार्डवेयर 3-डी हेडसेट यानी वर्चुअल रिएलिटी किट लॉन्च किया है. स्मार्टफोन से वर्चुअल रिएलिटी यानी वीआर व्यू के लिए यह हेडसेट लगाया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट Google
Image caption वर्चुअल रिएलिटी व्यू के लिए गूगल ने तैयार किया 3डी हेडसेट

इसके अलावा गूगल 4k मीडिया स्ट्रीमर भी लेकर आया है.

दोनों पिक्सल स्मार्टफ़ोन हैंडसेट इस मामले में अपने तरह के पहले फोन होंगे जिनके होम बटन को, ऐप्पल के सिरी की तरह, दबाकर गूगल असिस्टेंट ट्रिगर किया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट Google
Image caption गूगल असिस्टेंट अपने यूजर्स को कुछ इस तरह सलाह दे सकता है

इसमें आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस टूल की मदद से होम स्क्रीन पर बिना टचस्क्रीन की मदद से नियंत्रण रखा जा सकता है.

इसे अमेज़न के एकोज को टक्कर देने के लिए तैयार किया गया है.

कंपनी ने नया वॉयस-एक्टिवेटेड स्पीकर होम भी तैयार किया है. होम को घर पर केवल आवाज की मदद से भी एक्सेस किया जा सकता है.

हालांकि इसकी सेटिंग बदलने के लिए साथी ऐप की मदद ली जाएगी.

इमेज कॉपीरइट Google
Image caption गूगल का नया वॉयस-एक्टिवेटेड स्पीकर, होम. इसे केवल आवाज से भी कंट्रोल किया जा सकेगा.

बीबीसी के तकनीकी संवाददाता का कहना है कि हार्डवेयर के बाजार में दूसरी दिग्गज कंपनियों को टक्कर देने के लिए गूगल ने जो ये जोर आजमाइश की है इसके बावजूद कॉरपोरेट प्रतिद्वंद्वियों का मुकाबला करने में गूगल के सॉफ्टवेयर और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की क्षमता ही उसके सबसे काम की साबित होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार