शरीर का 79वां अंग मिला

इमेज कॉपीरइट The Lancet Gastroenterology & Hepatology

मानव शरीर का 79वां अंग मिला है. आयरलैंड स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ लिमरिक के एक शोध में पाया गया कि यह अंग हमारे पाचन तंत्र का हिस्सा है.

उस अंग को मेसेन्टरी यानी आंत्रसंयोजी कहते हैं. यह पेट को आंत से जोड़ता है.

पहले माना जाता था कि मेसेन्टरी कई अलग अलग हिस्सों से मिलकर बना है. लेकिन यूनिवर्सिटी ऑफ लिमरिक में प्रोफेसर ऑफ सर्जरी जे. केल्विन कॉफी के अनुसार यह एकल संरचना है.

जे. केल्विन कॉफी ने अपने शोध में बताया है कि उनकी इस खोज से कई लाभ होगें. विज्ञान के उन क्षेत्रों तक भी हम पहुंचेगे जो पहले पता नहीं थे. रोगों को नए सिरे से समझने में आसानी होगी.

यह शोध लांसेट गैस्ट्रोएंटेरोलॉजी एंड हेपाटोलॉजी में छपा है.

चिकित्सा क्षेत्र से जुड़ी किताब ग्रे एनाटोमी ने मानव शरीर के अंगों की जानकारी अपडेट करते हुए इसमें मेसेन्टरी को शामिल कर लिया है.

लेकिन अब इस अंग पर गहन वैज्ञानिक शोध करने की जरूरत है ताकि पता चले कि दरअसल यह अंग कौन कौन से काम करता है.

प्रोफेसर कॉफी बताते हैं, "हमने इस अंग के रचना विज्ञान और आकार का पता लगा लिया है. अब हमें ये पता लगाना है कि इसका काम क्या है."

इमेज कॉपीरइट The Lancet Gastroenterology & Hepatology Coffey

उनके मुताबिक अब दूसरे मानव शरीर के दूसरे अंगो और तंत्र की तरह इसके बारे में भी छानबीन होनी चाहिए.

माना जा रहा है कि यह अंग अब कोलोरेक्टल कैंसर, इंफ्लेमेटरी बाउल रोग जैसी आंत से जुड़ी बीमारियों, डायबिटीज और मोटापा को समझने और इन्हें ठीक करने में अहम भूमिका निभा सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)