सर्दी जुकाम से भी बचा सकता है विटामिन डी

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

शोधकर्ताओं का दावा है कि विटामिन डी ब्रिटेन में हर साल क़रीब तीस लाख लोगों को सर्दी-जुकाम से बचा सकता है.

सूर्य से मिलने वाला विटामिन स्वस्थ हड्डियों के लिए ही नहीं बल्कि शरीर के प्रतिरोधी तंत्र के लिए भी बहुत ज़रूरी है.

सर्दी-जुकाम-बुख़ार

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित इस अध्ययन के नतीजों में कहा गया है कि खाना विटामिन से भरपूर होना चाहिए.

विटामिन डी की कमी के ख़तरे

लेकिन पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएचई) ने कहा है कि अध्ययन में संक्रमण को लेकर दिए गए आंकड़े निर्णायक नही है. हालांकि पीएचई ने भी विटामिन डी की सिफारिश की है.

डिमेंशिया में

शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र विटामिन डी का इस्तेमाल सूक्ष्मजीवीरोधी शक्ति बनाने के लिए करता है, जो बैक्टिरिया और विषाणुओं को नुकसान पहुंचाता है.

सूर्य की रोशनी से विटामिन डी त्वचा में बनता है. सर्दियों के दिनों में बहुत से लोगों में इसकी कमी हो जाती है.

संक्रमण रोकने के लिए विटामिन डी के पूरक देने के अध्ययन के मिले-जुले नतीजे सामने आए. इस अध्ययन में किसी निर्णायक नतीज़े पर पहुंचने के लिए शोधकर्ताओं ने 25 अलग-अलग अध्ययनों में शामिल 11321 लोगों से मिले आंकड़े का विश्लेषण किया.

लंदन की क्वीन मैरी विश्वविद्यालय की टीम ने श्वसन प्रणाली में संक्रमण का अध्ययन किया. यह फ्लू से लेकर निमोनिया तक में शामिल होता है.

इस अध्ययन में शामिल प्रोफ़ेसर एड्रिन मार्टिनू कहते हैं, ''मोटे तौर पर ब्रिटेन की साढ़े छह करोड़ की आबादी में से 70 फ़ीसद लोगों को साल में कम से कम एक बार श्वसन तंत्र में तेज़ संक्रमण होता है. प्रतिदिन या हफ्ते में एक बार विटामिन डी सप्लिमेंट लेने का मतलब हुआ कि क़रीब साढ़े 32 लाख लोगों को साल में कम से कम एक बार श्वसन तंत्र में संक्रमण होगा.''

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

पीएचई पहले से ही लोगों को स्वस्थ्य हड्डियों और मांसपेशियों के लिए जाड़े के मौसम में विटामिन डी लेने की सलाह दे रहा है.

वह उन लगों को साल भर विटामिन डी लेने की सलाह देता है, जिन्हें बहुत कम धूप मिलती है. ऐसे लोगों में केयर होम में रहने वाले और ढंके रहने वाले लोग शामिल हैं.

हालांकि इस अध्ययन के महत्व को लेकर बहस भी छिड़ गई है.

इमेज कॉपीरइट PA

पीएचई में आहार विज्ञान की प्रमुख प्रोफ़ेसर लूइस लेवी कहती हैं, '' विटामिन डी और संक्रमण को लेकर दिए सबूत असंगत हैं. यह अध्ययन इस बात के पर्याप्त सबूत नहीं देता है कि श्वसन तंत्र में संक्रमण को कम करने में विटामिन डी सहायक है.''

वहीं बर्मिंघम विश्वविद्यालय में पढ़ाने वाले प्रोफ़ेसर मार्टिन हेविसन कहते हैं कि अध्ययन के नतीज़े आश्चर्यजनक हैं.

वो कहते हैं कि यह अध्ययन स्वस्थ हड्डी के लिए विटामिन डी के स्थापित फ़ायदे से आगे जाकर उसके फ़ायदे के बारे में सुझाव देती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)