स्मार्ट कंडोम वो बताएगा जो आप भी नहीं जानते

इमेज कॉपीरइट Britishcondoms.com
Image caption स्मार्ट कॉन्डोम

स्मार्ट वॉचेज़ और गूगल ग्लास के बाद पूरी दुनिया में वियरेबल टेक्नोलॉजी को लेकर रुझान बढ़ रहा है. घड़ियों और चश्मों के बाद अब इस कड़ी में नए-नए प्रोडक्ट बाज़ार में उतारे जा रहे हैं और उसी कड़ी में एक नया प्रोडक्ट है स्मार्ट कंडोम. इसकी बिक्री के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है.

इस स्मार्ट कंडोम को बनाने वाली कंपनी का दावा है कि ये ऐसे कई बारीक सवालों का जवाब भी देगा जिनके बारे में लोग अमूमन सोचते तक नहीं.

ब्रिटेन के एक ऑनलाइन स्टोर पर इसकी बिक्री की प्रक्रिया रजिस्ट्रेशन के ज़रिए शुरू की गई है. कंपनी ने इसे बाज़ार में पेश करने का दावा 2016 में ही किया था.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

कंपनी का दावा है कि स्मार्ट कंडोम का इस्तेमाल यूज़र को ये बता सकता है कि सेक्स कितनी देर, कितनी बार और यहां तक कि कितनी देर बाद किया गया?

हालांकि इसका नाम भले ही स्मार्ट कंडोम हो, लेकिन यह परिवार नियोजन का ज़रिया नहीं है.

स्मार्ट कंडोम एक रिंग है जो कंडोम के आधार वाले हिस्से पर फ़िट हो जाता है.

यानी अगर आपने इसके साथ रेगुलर कंडोम नहीं पहना है तो गर्भधारण और बीमारियों से बचाव में कोई मदद नहीं मिलेगी.

वैलेंटाइन डे पर कॉन्डोम के इस्तेमाल को बढ़ावा

सेक्स में चरम सुख की कुंजी क्या है?

इमेज कॉपीरइट LEON NEAL/AFP/Getty Images

कंपनी का दावा है कि इसे बार-बार इस्तेमाल में लाया जा सकता है.

स्मार्ट कंडोम नैनो चिप और सेंसर का इस्तेमाल कर आंकड़े जमा करता है.

एक बार सेक्स होने के बाद इसे ब्लूटूथ से जोड़ कर मोबाइल ऐप के ज़रिए इसके आंकड़े डाउनलोड किए जा सकते हैं.

आंकड़े डाउनलोड होने के बाद खुद ही इससे डिलीट हो जाते हैं और ये फिर से इस्तेमाल के लिए तैयार हो जाता है.

कंपनी के दिए ब्यौरे के मुताबिक स्मार्ट कंडोम को इस्तेमाल के पहले चार्ज करना पड़ता है और ये काम यूएसबी पोर्ट के जरिए आसानी से हो जाता है.

आलोचनाएं

हालांकि कंपनी के दावों पर सवाल भी उठाए जा रहे हैं. आलोचकों का कहना है कि ये एक उपयोगी प्रोडक्ट के बनिस्बत बिक्री का हथकंडा ज़्यादा मालूम देता है.

इमेज कॉपीरइट LEON NEAL/AFP/Getty Images

काम के दौरान सेक्स के लिए मिले ब्रेक!

प्रोडक्ट की तस्वीरों के अभाव में फिलहाल ये कहना मुश्किल है कि इसका इस्तेमाल कितना सहज होगा.

ये उत्पाद यौन आनंद को बढ़ाने के लिए नहीं है और न ही इसके टूटने या लीक होने की सूरत में किसी तरह के बचाव का ज़रिया देता है.

आलोचकों का कहना है कि स्मार्ट कंडोम से ऐसा कुछ हासिल नहीं किया जा सकता जिसे किसी तरह से उपयोगी कहा जाए.

एक घंटे की चार्जिंग में यह 7-8 घंटे तक इस्तेमाल हो सकता है. इसके आंकड़े सिर्फ यूज़र तक ही सीमित रहेंगे, लेकिन इसे शेयर करने का विकल्प भी दिया गया है.

एक साल की वॉरंटी के साथ इसकी क़ीमत रखी गई है करीब 60 पाउंड यानी करीब 4800 रूपए. स्मार्ट कंडोम में साइज़ का कोई मसला नहीं है क्योंकि इसकी रिंग लचीली है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे