अगर हैं शादीशुदा तो दिल देता रहेगा साथ

  • 8 जून 2017
इमेज कॉपीरइट KUZMICHSTUDIO/GETTY

शादी आपकी सेहत के लिए अच्छी होती है. शोधकर्ताओं का कहना है कि अगर आपको हाई कॉलेस्ट्रॉल जैसे कारणों से दिल का दौरा पड़ने के ख़तरे हैं तो शादी की वजह से आपके जीवित रहने की संभावना बढ़ जाती है.

ब्रिटेन में क़रीब दस लाख वयस्कों पर किए गए एक शोध के आधार पर शोधकर्ताओं ने एक कॉन्फ्रेंस में बताया कि एक प्यार करने वाला पार्टनर आपको अपनी देखभाल बेहतर तरीके से करने को प्रेरित कर सकता है.

युवा औरतों में होता है अजीब किस्म का हार्ट अटैक

24 घंटे में 27 हार्ट अटैक, पर आदमी ज़िंदा है

मोटे हैं फिर भी फ़िट हैं! क्या सचमुच?

वो पेनकिलर, जिनसे है दिल के दौरे का ख़तरा

शोध में शामिल सभी लोगों को हाई ब्लड प्रेशर, कॉलेस्ट्रॉल या डायबिटीज़ की समस्या थी.

लेकिन उनमें सिंगल लोगों के मुकाबले शादीशुदा लोगों का स्वास्थ्य बेहतर था.

अच्छी है शादी

शोध करनेवाले एस्टन मेडिकल स्कूल के डॉक्टर पॉल कार्टर और उनके सहकर्मियों ने बताया है कि शादी से दिल का दौरा पड़ने पर जान बचने की उम्मीद बढ़ जाती है.

ब्रिटिश कार्डियोवैस्क्यूलर सोसायटी के इस हालिया शोध में इसकी वजह भी बताई गई है.

शोधकर्ताओं का अनुमान है कि दिल की बीमारी के लिए ज़िम्मेदार हाई कॉलेट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर जैसे जोख़िम की स्थिति में अगर मरीज़ शादीशुदा है तो उसका रिस्क कम हो जाता है.

इमेज कॉपीरइट PA

अध्ययन में दिल की बीमारी से मौत के साथ-साथ हर तरह की बीमारी से होनेवाली मृत्यु को शामिल किया गया था.

शोध के नतीजों में बताया गया है कि हाई कॉलेट्रॉल वाले 50, 60 और 70 की उम्र की महिलाओं और पुरुषों में शादीशुदा लोगों के बचने की संभावना 16 फ़ीसदी तक ज़्यादा होती है.

ऐसी ही हालत मधुमेह और उच्च रक्तचाप के मरीज़ों के मामले में भी पाया गया है.

हालांकि सेक्सुअली एक्टिव, एक-दूसरे से अलग रह रहे पति-पत्नी, तलाकशुदा लोगों के मामले में ये तस्वीर उतनी साफ़ नहीं है.

इसके अलावा शोधकर्ताओं ने इस बात की भी जांच नहीं की है कि शादीशुदा लोग वाक़ई खुशहाल हैं या नहीं.

उनका कहना है कि सिर्फ़ शादीशुदा होने की बजाए आपकी ज़िंदगी में किसी ख़ास शख़्स की मौजूदगी से भी फ़र्क पड़ता है.

शोध करनेवाले डॉक्टर कार्टन कहते हैं,"हमें दिल की बीमारी के कारणों पर थोड़ा और अध्ययन करना होगा. लेकिन शोध में ये बात सामने आई है कि शादीशुदा ज़िंदगी न केवल दिल की बीमारी की हालत में बल्कि जिन लोगों में इसके जोख़िम ज़्यादा हैं उनमें भी मददगार साबित होती है. लेकिन हम ये नहीं कह रहे कि हर इंसान को शादी कर ही लेनी चाहिए. हमें शादी के सकारात्मक प्रभाव को समझने की ज़रूरत है."

ख़ून की जांच से पता चलेगी दिल की बीमारी

कैसे जानेंगे की दिल का दौरा पड़ने वाला है

दिल की बीमारी के कारण -

धूम्रपान

उच्च रक्तचाप

हाई ब्लड कॉलेस्ट्रॉल

डायबिटीज़

मोटापा या ज़्यादा वज़न

कसरत न करना

परिवार में दिल की बीमारी

उम्र (उम्र के साथ जोख़िम बढ़ता है)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)