क्या जुड़ सकते हैं टूटे हुए दिल?

टूटा दिल
Image caption "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" के लक्षण वसंत और गर्मियों के महीनों में ज्यादा उभरते

क्या प्यार में टूटे हुए दिल की मरम्मत हो सकती है? अगर आपको लगता है नहीं तो आप ग़लत हैं. वैज्ञानिकों ने पाया है कि टूटे दिल की मरम्मत मुमकिन है.

अमरीकी शोधकर्ताओं ने ऐसे सत्तर मरीज़ों का अध्ययन किया है जिनमें "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" के लक्षण थे. "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" एक ऐसी अवस्था है जिसका संबंध तनावपूर्ण या भावनात्मक घटनाओं से है. इस तरह के तमाम मरीज़ों को एस्प्रिन या ह्रदय संबंधी दवाएँ दी गईं. दवा खाने के बाद लगभग सभी मरीज़ों की दशा पहले से बेहतर पाई गई. इनसे से बीस फ़ीसदी मरीज़ ऐसे थे जिनकी हालत बेहद ख़राब थी. अमरीकी जर्नल ऑफ़ कॉर्डियोलॉजी के एक अध्ययन में कहा गया है कि शायद तनाव संबंधी हारमोन के कारण ये मरीज़ इस हालत में पहुँचे.

"ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम"

"ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" को मेडिकल की ज़बान में ताकोत्सुबो कॉर्डिम्योपैथी के नाम से जाना जाता है.

जापान के शोधकर्ताओं ने "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" का सबसे पहली बार उल्लेख 1990 के शुरुआती दौर में किया था. अध्ययन के मुताबिक "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" के लक्षण, ह्रदयाघात के समान होते हैं जैसे सीने में दर्द, उखड़ी साँस आदि. इन लक्षणों का पता जल्द लगने के बाद यदि तेज़ी से उपचार किया जाए तो इन्हें पूरी तरह से दूर किया जा सकता है. इन नतीज़ों पर पहुँचने के लिए शोधकर्ताओं ने वर्ष 2004 से वर्ष 2008 के बीच "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" से पीड़ित कई मरीज़ों का अध्ययन किया.

"सचमुच घातक"

ब्रिटिश हार्ट फ़ाउंडेशन की प्रवक्ता ज्यून डेविसन का कहना है, "ऐसा प्रतीत होता है कि इस अवस्था और बेहद तनावपूर्ण घटना के बीच एक संबंध है." शोध का नेतृत्व करने वाले मरियम हास्पिटल के डॉक्टर रिचर्ड रेगनांटे का कहना है कि "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" के लक्षण बेहद घातक हैं. शोधकर्ताओं का कहना है कि ह्रदयघात अक्सर सर्दियों में होते हैं, लेकिन "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" के लक्षण वसंत और गर्मियों के महीनों में ज्यादा उभरते हैं. वो कहते हैं कि इस अध्ययन से ह्रदय रोग विशेषज्ञों को "ब्रोकन हार्ट सिंड्रोम" से पीड़ित मरीज़ों को संभालने में मदद मिल सकती है.

संबंधित समाचार