भारतीयों के लिए विशेष ब्राउज़र

चित्र साभारः एपिक ब्राउज़र डॉटकॉम
Image caption एपिक को मोज़िला ब्राउज़र की सहायता से बनाया गया है (साभारः एपिक ब्राउज़र डॉटकॉम)

बंगलौर स्थित एक सॉफ़्टवेयर कंपनी ने भारत के इंटरनेट उपभोक्ताओं के लिए एक नया इंटरनेट ब्राउज़र बनाया है.

एपिक नामक इस ब्राउज़र के निर्माताओं का दावा है कि ये भारतीय लोगों को ध्यान में रखकर बनाया गया पहला वेब ब्राउज़र है.

ब्राउज़र बनानेवाली कंपनी हिडेन रिफ़्लेक्स का कहना है कि एपिक ब्राउज़र को भारतीय इंजीनियरों ने तैयार किया है जिसके लिए मोज़िला ब्राउज़र की सहायता ली गई है.

कंपनी का एपिक के बारे में कहना है, एपिक अपने उपभोक्ताओं को एक विशेष भारतीय ब्राउज़िंग अनुभूति देता है.

कंपनी की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार हिडेन रिफ़्लेक्स की स्थापना करनेवाले, अमरीका में पढ़े और अभी बंगलौर स्थित कंपनी के मुख्य कार्यकारी आलोक भारद्वाज का मानना है,"हम ये सिद्ध करना चाहते हैं कि भारत भी सॉफ़्टवेयर और तकनीक की दिशा में नए आविष्कारों का एक केंद्र बन सकता है."

सुविधाएँ

कंपनी के अनुसार उसके ब्राउज़र पर लोकप्रिय भारतीय पत्र-पत्रिकाओं की ताज़ा राष्ट्रीय और क्षेत्रीय ख़बरें, लाइव टीवी चैनल, वीडियो, शेयर भाव, क्रिकेट स्कोर, संगीत एल्बम और दूसरी स्थानीय गतिविधियों की जानकारी उपलब्ध रहेंगी.

इंटरनेट उपभोक्ताओं के लिए एपिक पर डेढ़ हज़ार से अधिक थीम और वॉलपेपर भी दिए गए हैं जिनमें भारत के स्वाधीनता सेनानियों से लेकर हिंदी और क्षेत्रीय फ़िल्मों के अभिनेताओं की तस्वीरें होंगी.

इस ब्राउज़र पर भारतीय भाषाओं में लिखने की भी सुविधा है. फ़िलहाल इसपर 12 भारतीय भाषाएँ काम करती हैं.

एपिक की एक और विशेषता इसके साथ जुड़ा हुआ ऐंटीवायरस सॉफ़्टवेयर है जो निःशुल्क है और इससे इंटरनेट इस्तेमाल करनेवाले लोग इंटरनेट के माध्यम से कंप्यूटरों को प्रभावित करनेवाले वायरसों से भी बचाव कर सकते हैं.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है