रिसाव रोकने का काम पूरा होने वाला है: ओबामा

अमरीका प्रशासन का कहना है कि मेक्सिको की खाड़ी में तेल के कुँए से रिसे तीन चौथाई तेल की सफ़ाई का काम हो चुका है या वो प्राकृतिक तरीके से अपने आप साफ़ हो गया है.

व्हाइट हाउस में ऊर्जा मामलों की सलाहकार कैरल ब्राउनर ने कहा कि वैज्ञानिकों के मुताबिक रिसे हुए केवल 25 फ़ीसदी तेल से पर्यावरण को ख़तरा है.

उधर तेल कंपनी बीपी के मुताबिक तेल के कुँए को स्थाई रूप से बंद करने की कोशिश के तहत स्टेटिक किल प्रक्रिया काम कर रही है. अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस ख़बर का स्वागत किया है.

उन्होंने कहा, “तेल रिसाव रोकने और उसे फैलने से रोकने की लंबी प्रक्रिया अब आख़िरकर ख़त्म हो गई है. हम इससे बहुत ख़ुश हैं. जो नुकसान हो चुका है उसे अब ठीक करना होगा.”

ऊर्जा मामलों की सलाहकार कैरल ब्राउनर ने एबीसी टीवी नेटवर्क पर कहा कि वैज्ञानिकों ने जो शुरुआती रिपोर्ट दी है उसे लोगों के साथ बाँटना ज़रूरी है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि खाड़ी के पास रहने वाले लोगों को बीचों पर तेल की परत नहीं दिखेगी लेकिन कैरल ब्राउनर का कहना है कि तेल रिसाव का असर रहेगा.

बीपी ने मंगलवार को स्टेटिक किल प्रक्रिया पर काम शुरु किया था जिसके तहत तेल के कुँए में ख़ास तरह की मिट्टी पंप की जा रही है. विशेषज्ञों का कहना है कि मिट्टी से तेल नीचे चला जाएगा.

स्टेटिक किल

आठ घंटे काम करने के बाद स्टेटिक किल की प्रक्रिया रोक दी गई थी ताकि कुँए का जायज़ा लिया जा सके.

बीपी का कहना है कि तेल के कुँए के अंदर प्रेशर या दवाब को मिट्टी के दवाब से नियंत्रित किया जा रहा है.

रिटार्यड कोस्ट गार्ड एडमिरल एलन का कहना है कि क्षतिग्रस्त कुँए के तले में मिट्टी और सिमेंट डाला जाएगा ताकि कुँए को हमेशा के लिए बंद किया जा सके.

कुँए को बंद करने बहुत ज़रूरी है क्योंकि खाड़ी में तूफ़ानों के आने का सिलसिला जल्द ही शुरु हो जाएगा.

अप्रैल में कुँए में आग लगने के बाद 11 लोगों की मौत हो गई थी और तेल का रिसना शुरु हो गया था.

काफ़ी कोशिशों के बाद 15 जुलाई को रिसाव बंद किया जा सका था. 87 दिनों के दौरान करीब 49 लाख बैरल तेल खाड़ी के पानी में रिस गया जिसमें केवल आठ लाख बैरल को ही अलग किया जा सका है.

संबंधित समाचार