अंतरिक्ष यात्रियों की कमी

इमेज कॉपीरइट AP

हाल ही में जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा को अंतरिक्ष यात्रियों की कमी सता रही है.

अमरीका की राष्ट्रीय शोध परिषद विज्ञान से जुड़ी सरकारी नीतियों पर सलाह देती है, उसने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि नासा को अपने अंतरिक्ष यात्रियों की संख्या बढ़ानी चाहिए.

इस संस्था का कहना है कि अधिक अंतरिक्षयात्रियों की ज़रुरत अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र पर पर्याप्त लोगों को रखने और नए अभियान चलाने के लिए है.

वर्तमान में नासा के पास अपना कोई निजी अंतरिक्ष यान नहीं है और अमरीकी अंतरिक्ष यात्रियों को रूस के अंतरिक्ष यानों के ज़रिये यात्रा करनी पड़ती है.

गिरते आंकड़े

इस रिपोर्ट के अनुसार बीते एक साल में कई अंतरिक्षयात्रियों ने या तो अपनी नौकरियां छोड़ दी हैं या फिर वे सेवानिवृत्त हो गए हैं. इस रिपोर्ट के हिसाब से नासा के पास इस समय महज़ 60 अंतरिक्ष यात्री हैं जबकि एक दशक पहले अपने शीर्ष पर यह संख्या 149 थी.

बुधवार को जारी इस रिपोर्ट में कहा गया है कि नासा में अंतरिक्ष यात्रियों की वर्तमान संख्या उस स्थिति में ख़तरे में पड़ सकती है जब कोई अंतरिक्ष यात्री बीमार पड़ जाए या घायल हो जाए.

इस रिपोर्ट के अनुसार, "अंतरिक्ष यात्रियों के वर्तमान दल की तय संख्या भविष्य में व्यावसायिक अभियानों या नए अभियानों की संभावनाओं को ख़त्म कर देती है."

इस समिति में अंतरिक्ष अनुसंधान से जुड़े 13 जानकार शामिल थे जिनमें पांच पूर्व अंतरिक्ष यात्री शामिल थे.

संबंधित समाचार