फ़ेसबुक ने पोर्नो तस्वीरें हटाईं

फ़ेसबुक इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption फ़ेसबुक के हज़ारों खाताधारियों ने अश्लील तस्वीरों के बारे में शिकायत दर्ज़ कराई है

फ़ेसबुक ने कहा है कि उसने अपनी वेबसाइट पर पोस्ट की गईं अधिकतर अश्लील और हिंसक तस्वीरों को हटा दिया है.

ये तस्वीरें एक स्पैम हमले से लगाई गई थीं जिसके लिए फ़ेसबुक ने ब्राउज़र की सुरक्षा के कमज़ोर होने को ज़िम्मेदार ठहराया है.

फ़ेसबुक ने कहा है कि वो अपने सिस्टम में सुधार कर रहा है ताकि भविष्य में ऐसे हमलों से बचा जा सके.

फ़ेसबुक के 80 करोड़ खाताधारियों में से हज़ारों लोगों ने हाल के समय में ऐसी तस्वीरों के बारे में शिकायत की थी.

एक सूत्र ने बीबीसी को बताया है कि फ़ेसबुक ने पता लगा लिया है कि इस हमले के पीछे कौन था.

समझा जा रहा है कि फ़िलहाल कंपनी अपने का़नूनी विभाग से विमर्श कर रही है कि इस संदिग्ध हमलावर के ख़िलाफ़ क्या कार्रवाई की जाए.

सलाह

फ़ेसबुक ने कहा है कि उसके इंजीनियरों ने फ़ेसबुक पर ऐसे ख़राब पन्नों या खातों को बंद करने के लिए व्यवस्था कर ली है जो सुरक्षा में चूक का लाभ उठाने के प्रयास करते हैं.

कंपनी ने हमलों से बचने के लिए निम्नलिखित सलाह भी जारी किए हैं -:

- कभी भी किसी अनजान कोड को कॉपी कर अपने ऐड्रेस बार पर पेस्ट ना करें

- हमेशा अपडेटेड ब्राउज़र का इस्तेमाल करें

- दोस्तों के खातों पर संदिग्ध गतिविधियाँ या सामग्रियाँ देखकर फ़ेसबुक के रिपोर्ट लिंक पर जाकर सूचित करें

फ़ेसबुक ने साथ ही कहा है कि इस हमले से किसी भी खाताधारी की सूचनाओं के साथ छेड़छाड़ नहीं हुई है.

फ़ेसबुक पर 13 साल से अधिक उम्र के बच्चे सदस्य बन सकते हैं और वेबसाइट पर आपत्तिजनक तस्वीरें लगाने की मनाही है.

वैसे सुरक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि फ़ेसबुक के लिए इस हमले से जूझ पाना कठिन था क्योंकि इस हमले में फ़ेसबुक के बजाय अज्ञात ब्राउज़र को निशाना बनाया गया है.

संबंधित समाचार