धूप सेंकिए, सेहत बनाइए

विटामिन डी
Image caption धूप से विटामिन-डी प्राप्त होता है जो कई तरह की बीमारियों से रक्षा कर सकती है.

दफ्तरों और घरों के कमरों में बंद होकर बैठने वालों के लिए एक हिदायत है. बाहर निकलिए, धूप सेंकिए और सेहत बनाइए.

ब्रिटेन में अर्थराइटिस रिसर्च नाम की परोपकारी संस्था ने कहा है कि विटामिन डी का स्तर बढ़ाने के लिए लोगों को धूप में बैठना चाहिए क्योंकि विटामिन डी की कमी के कारण हड्डियाँ कमजोर ही सकती हैं, मांसपेशियों में दिक्कत हो सकती है और बच्चों में रिकेट्स की बीमारी का खतरा होता है.

इसलिए बच्चों और गर्भवती महिलाओं को विटामिन डी की गोलियां भी दी जाती हैं.

अर्थराइटिस रिसर्च संस्था के मुताबिक अगर बाहर धूप में कुछ समय बिताया जाए तो दवा जैसा ही असर होगा.

कहा गया था कि इंग्लैंड में एक चौथाई तक जनसंख्या के खून में विटामिन डी की कमी है.

पैंसठ साल से ज्यादा की उम्र के लोगों, बच्चों और गर्भवती महिलाओं पर विटामिन डी की कमी का सबसे ज्यादा असर बताया जाता है.

भोजन से शरीर में कैलशियम प्राप्त करने के लिए विटामिन डी की जरूरत होती है. ऐसा न होने पर हड्डियों पर बुरा असर पड़ता है.

हालांकि विशेषज्ञ कहते हैं कि धूप में बहुत ज्यादा देर तक बैठना भी स्वास्थ्य के लिए बेहतर नहीं हैं.

संबंधित समाचार