नहीं खोएंगे बटुआ, चाबी और चश्मा...

नया सेंसर
Image caption ये सेंसर सब चीजों पर नजर रखेगा

वैज्ञानिकों की कोशिशें कामयाब रहीं तो घर में आपका बुटआ, चाबी, चश्मा और यहां तक कि चम्मच जैसी चीजें भी नहीं खोएंगी.

दो कंप्यूटर साइंस शोधकर्ताओं ने कैमरा आधारित एक सिस्टम तैयार किया है जो इस बात का हिसाब रख सकता है कि घर में कौन सी चीज कब कहां रखी जा रही है.

इसमें माइक्रोसॉफ्ट के कई काइनेक्ट सेंसरों को एक कंप्यूटर के साथ जोड़ा गया है और कंप्यूटर में एक खास सॉफ्टवेयर है.

हालांकि ये परियोजना अभी प्रयोग के शुरुआती दौर में है, लेकिन आगे चलकर ये आम जिंदगी में बहुत काम की साबित हो सकती है.

सब चीजें मिलेंगी

हाल ही में चीन में इस सिस्टम को पेश किया गया जिसके बाद 'न्यू साइंटिस्ट' पत्रिका में इस बारे में रिपोर्ट छपी है.

शोधकर्ताओं का कहना है, “जरा ऐसे सिस्टम के बारे में सोचिए जो रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली हमारी सब चीजों पर नजर रखे. चीजों के स्थान के बारे में जानकारी रख कर हम घर के लिए एक स्मार्ट सर्च इंजन तैयार कर सकते हैं- जो हमारे इन सवालों का जवाब देगा – मेरा चश्मा या टीवी का रिमोट या पर्स कहां है?”

हालांकि इसके लिए पहले से रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन चिप जैसे विकल्प मौजूद हैं लेकिन शोधकर्ताओं का कहना है कि उनका सिस्टम कहीं ज्यादा सस्ता होगा.

सेंसर की समझदारी

शोधकर्ताओं ने ये सिस्टम इस सिद्धांत पर तैयार किया है कि चीजें तभी अपनी जगह बदलती हैं जब कोई व्यक्ति उन्हें एक जगह से दूसरी जगह रखता है.

ये सिस्टम इंसानों के चलने फिरने और उसकी वजह से चीजों के बदले स्थान पर नजर रखता है.

हालांकि काइनेक्ट के सेंसरों की क्षमता सीमित ही है और वे 11 फुट तक ही चीजों को देख पाते हैं और उनसे प्रति सेकंड 15 फ्रेम के हिसाब से तस्वीरें दर्ज होती हैं.

किनसाइट नाम के इस प्रोग्राम में बुनियादी समझदारी से जुड़ी जानकारी भी दर्ज है. मसलन कॉफी का कप आम तौर पर पढ़ाई की मेज या किचन के सिंक में होगा, न कि बाथरूम में.

शोधकर्ता कहते हैं, “अगर सिस्टम तय नहीं कर पा रहा है कि चीज कहां होगी तो फिर वो अपनी इस समझदारी का इस्तेमाल करते हुए संभावित जगहों पर चीजों को तलाश सकता है.”

लेकिन अभी इस सिस्टम को आम इस्तेमाल के लिए तैयार करने में वक्त लग सकता है.

संबंधित समाचार