मिल गई कमर दर्द की वजह

कमर दर्द
Image caption जीन के पता चलने से नए इलाजों को विकसित करना संभव हो सकता है.

आपकी कमर के निचले हिस्से के दर्द का कारण आपकी जीन से जुड़ा हो सकता है.

वैज्ञानिकों ने डिस्क की समस्याओं से जुड़े इस जीन का पता लगाया है.

ब्रिटेन के 4,600 लोगों पर किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि पार्क-2 जीन उम्र से जुड़ी डिस्क की समस्याओं की वजह है.

अधेड़ उम्र की औरतों में से एक तिहाई को रीढ़ संबंधी परेशानियों की शिकायत रहती है. इनमें से लगभग 80 प्रतिशत को यह समस्या विरासत में मिलती है.

विशेषज्ञों का कहना है कि जीन के पता चलने से नए इलाजों को विकसित करना संभव हो सकेगा.

इलाज पर खर्च

ब्रिटेन में कमर दर्द की वजह से कामगारों द्वारा ली गई छुट्टी, और इस तरह के लोगों के इलाज पर लगभग सात अरब पाउंड सालाना खर्च आता है. लेकिन अबतक बीमारी के सही कारण ठीक से समझ में नहीं आए हैं.

लंबर डिस्क की डिजेनरेशन यानी विकृति में रीढ़ के भीतर के हिस्सों में तरल पदार्थों की कमी हो जाती है और इसकी लम्बाई कम हो जाती है. इससे सटे हिस्सों में हड्डियां बढ़ने लगती हैं जिन्हें 'ओस्टियोफाइटस' कहते हैं. इससे कमर के निचले भाग में दर्द होने लगता है.

लंदन के किंग्स कॉलेज के शोधकर्ताओं ने इस अध्ययन में शामिल सभी लोगों के एमआरआई कराए और उनके आनुवांशिक बनावट में फ़र्क को देखा.

भिन्नरूप

उन्होंने पाया कि जिनकी डिस्क में ख़राबी थी उनमें पार्क2 जीन की अलग-अलग क़िस्में मौजूद थीं. और इसका प्रभाव इस बात पर पड़ रहा था कि उनकी स्थिति में किस तेज़ी से गिरावट आ रही थी.

शोधकर्ताओं ने कहा कि ये जानने के लिए की जीन का प्रभाव किस तरह से होता, अभी और भी शोध की ज़रूरत पड़ेगी.

उनका यह भी कहना है कि खान-पान और जीवनशैली जीन में कुछ बदलाव कर सकते हैं.

संबंधित समाचार