वॉशिंगटन पोस्ट, सीएनएन और टाइम की वेबसाइट हुई हैक

  • 16 अगस्त 2013
Image caption अब सीरियन इलेक्ट्रॉनिक आर्मी का निशाना बनी है वाशिंगटन पोस्ट की साइट

वॉशिंगटन पोस्ट, सीएनएन और टाइम पत्रिका की वेबसाइट को सीरिया के राष्ट्रपति बशर-अल-असद के समर्थकों ने हैक कर लिया है. इन वेबसाइटों पर उपलब्ध कुछ लिंक पाठकों को सीरियन इलेक्ट्रॉनिक आर्मी की वेबसाइट पर भेज देते हैं.

ऐसा इन तीनों साइटों को ज़रूरी सेवा लिंक उपलब्ध कराने वाली फर्म की सुरक्षा प्रणाली में खामी के चलते हुआ है.

जानकारी के मुताबिक इस फर्म के कर्चचारी एक स्पूफ़ ईमेल का शिकार हो गए थे.

सीरियन इलेक्ट्रॉनिक आर्मी पिछले कुछ महीनों में कई मीडिया कंपनियों की वेबसाइट को अपना शिकार बना चुकी है. सबसे ज्यादा इनके सोशल मीडिया अकाउंट्स को हैक किया गया है.

लेकिन इस बार के हमले में हैकिंग करने वाला यह ग्रुप मीडिया कंपनियों की वेबसाइट पर उपलब्ध लिंक में हेरफेर कर एक कदम आगे बढ़ गया है.

Image caption आउटब्रेन का कहना है कि हमले के बारे में पता चलते ही उसने सर्विस बंद कर दी थी

इस वेब हमले के तुरंत बाद न्यूयॉर्क की उस फर्म ने कुछ समय के लिए सेवा को बंद कर उन लिंक को तुरंत सही करने का निर्णय लिया..

आउटब्रेन ने सात घंटे बाद सेवा को दोबारा चालू कर दिया.

सीएनएन ने बीबीसी को बताया, "सीएनएनआई डॉट कॉम पर दिखाई देने वाले एक वेंडर प्लग-इन की सुरक्षा से छेड़छाड़ की गई थी. छेड़छाड़ को जल्दी ही पहचान लिया गया और प्लग-इन को निष्क्रिय कर दिया गया. न सीएनएन डॉट कॉम और न ही सीएनएनआई डॉट कॉम सीधे तौर पर इससे प्रभावित हुए थे.

वॉशिंगटन पोस्ट के प्रबंध संपादक एमिलियो गार्सिया-रुइज़ ने बाद में कहा कि अपने अखबार की वेबसाइट पर इस सप्ताह हुआ वेब हमला सीरियन इलेक्ट्रॉनिक आर्मी का एक मात्र हमला नहीं है.

उन्होंने बताया, "कुछ दिन पहले सीरिया इलेक्ट्रॉननिक आर्मी ने कथित तौर पर न्यूज़रूम कर्मचारियों के सिस्टम पर हमला किया था ताकि पासवर्ड हासिल किया जा सके. इस वजह से एक कर्मचारी के ट्विटर अकाउंट से सीरियन इलेक्ट्रॉनिक आर्मी की तरफ़ से संदेश भेद दिया गया."

ख़तरनाक

Image caption हैक करने वालों ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस बारे में एक ग्राफ़िक पोस्ट किया है

आउटब्रेन कंपनी के मुताबिक हैकरों ने कर्मचारियों को फ़िशिंग ई-मेल भेजी जो कंपनी के मुख्य कार्यकारी की तरफ से भेजी गई थी.

मेल में सभी कर्मचारियों को एक क्रम में गोपनीय जानकारी लिखने को कहा गया, कर्मचारियों के ऐसा करने पर सीरिया इलेक्ट्रॉनिक आर्मी सिस्टम तक पहुँच बना पाई और अन्य पासवर्ड हासिल कर लिए.

आउटब्रेन के मुताबिक छेड़खानी होने के 11 मिनट के बाद ही इसका पता चल गया था.

एक सुरक्षा विशेषज्ञ के अनुसार यह बहुत ही ख़तरनाक था.

बुधवार को न्यूयॉर्क टाइम्स की वेबसाइट बंद हो गई थी, जिसका कारण पेज पर आंतरिक समस्या बताया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए करें यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार