विकीपीडिया पर 250 धंधेबाज़ों के अकाउंट बंद

  • 22 अक्तूबर 2013
विकीपीडिया
Image caption विकीपीडिया पर एकाउंट खोलने और एडवोकेसी करने के लिए पैसा देने का मामला सामने आया है

विकीपीडिया के संपादकों को यह जानकर झटका लगा है कि इंटरनेट पर उनके सैकड़ों यूज़र ऐसे हैं जिन्हें ऑनलाइन एकाउंट खोलने के लिए पैसे दिए गए हैं.

इन एकाउंटों के ज़रिए एडवोकेसी करने और प्रमोशनल करने का काम किया जाता है.

यह एक तरह से इंटरनेट पर मुफ़्त एनसाइक्लोपीडिया उपलब्ध कराने की नीतियों के ख़िलाफ़ हैं.

विकीमीडिया फ़ाउंडेशन के कार्यकारी संपादक सु गार्डेनर ने कहा कि सैकड़ों एकाउंट संदिग्ध हैं.

संदिग्ध एकाउंट

संपादकों ने ऐसे 250 एकाउंट को बंद करने का फ़ैसला किया.

सु गार्डेनर ने कहा, "हमारा उद्देश्य अपने पाठकों को निष्पक्ष और विश्वसनीय सूचनाएं देने का है, इस पर ख़तरा गंभीर समस्या है."

सु ने ये भी कहा, " हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं और विकल्पों पर विचार कर रहे हैं."

एडवोकेसी के लिए पैसे के भुगतान के बारे में सु ने बताया कि यह विकीपीडिया के मूलभूत सिद्धांतों का उल्लंघन है, क्योंकि विकीपीडिया कई लोगों के लिए बेहद अहम है.

विकीमीडिया फ़ाउंडेशन एक गैर सरकारी संगठन है जो मुफ़्त ऑनलाइन एनसाइक्लोपीडिया विकीपीडिया का संचालन करती है.

इस सेवा के संपादकों ने जांच के बाद पाया कि विवादास्पद सामग्रियों में से ज़्यादातर हिस्सा एक अमरीकी कंपनी विकी-पीआर के द्वारा अपलोड की गई है.

विकी-पीआर का दावा है कि वह विकीपीडिया के 12 हज़ार पन्नों को बनाने, संभालने और अनुवाद का करती रही है.

प्रमोशनल सामग्री पर विवाद

विकी मीडिया के संपादकों के मुताबक प्रोमशनल सामग्रियों में कुछ सामग्री मार्निंग 227 एकाउंट से पोस्ट की गई हैं. इसे सिलिकॉन वैली की कुछ वेबसाइट, छोटे वित्तीय संस्थान, लेखक, डॉक्टर, संगीतकार और तेल कंपनियों द्वारा अनुबंधित किया गया था.

ऐसी कई सामग्री ब्लॉगों और सिटीजन जर्नलिस्ट की सामग्री देने वाली वेबसाइट क्रचबेस, डिज़ीटलजर्नल डॉट कॉम और टेक्नोराटी डॉट कॉम से ली गई है.

विकीपीडिया की ओर से कहा गया है कि कई बार सामग्रियों का लहजा प्रमोशनल होता है या फिर निष्पक्ष नहीं होता है, कभी आलोचनात्मक और नकारात्मक टिप्पणियां नहीं मिली हैं.

Image caption विकीपीडिया ने सैंकड़ों संदिग्ध एकाउंट बंद करने का फ़ैसला किया है

हालांकि विकी पीआर की ओर से कहा गया है कि विकीपीडिया के नियमों को कोई उल्लंघन नहीं हुआ है क्योंकि हमने हमेशा सटीक जानकारी अपलोड की है.

विकी पीआर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जॉर्डन फ़्रेंच ने कहा, "हमारी संस्था के नाम में पीआर शब्द का बस इस्तेमाल भर हुआ है, हम पूरी छानबीन के बाद ही किसी फ़र्म के बारे में कुछ लिखते हैं."

जॉर्डन फ़्रेंच के मुताबिक उनकी कंपनी तथ्यों की छानबीन करने के बाद ही कमोबेश हर तरह के विषयों पर सामग्रियों को अपलोड करती रही हैं.

जॉर्डन यह भी कहते हैं विकी पीआर विकीपीडिया का अभिन्न और उपयोगी हिस्सा बन चुका है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार