आईपॉडः सबसे कामयाब एमपी-3 प्लेयर का वक्त ख़त्म?

आईपॉड इमेज कॉपीरइट Getty

कुछ ही ऐसे उत्पाद हो सकते हैं जो तकनीक के मोर्चे पर अपनी ख़ास जगह होने का दावा कर सकते हैं. इनमें 2001 में लॉंच ऐपल के आईपॉड का दावा बनता है.

अपने ख़ास तरह के गोल क्लिक वाले डिज़ाइन और ख़ूबसूरत सफ़ेद हेडफ़ोन्स से साथ आईपॉड पोर्टेबल ऑडियो टेक्नोलॉजी में सुंदरता को फिर से ले आया था. इससे पहले एक दशक पहले आए सोनी के वॉकमैन ने ही ऐसा "कूल" प्रभाव पैदा किया था.

रिकॉर्डिंग उद्योग के लिए राहत की बात यह थी कि आईपॉड के साथ आने वाला म्यूज़िक स्टोर, आईट्यून्स, डिजिटल संगीत की वैधानिक डाउनलोडिंग को मुख्यधारा में ले आया और कुछ संगीत प्रेमी तो मुफ़्त मिलने वाले पायरेटेड म्यूज़िक के जाल से बाहर निकल आए.

लेकिन ऐसा लगता है कि 12 साल और 26 उपकरणों के बाद, एक पीढ़ी की पहचान बन चुका आईपॉड, अब इतिहास का हिस्सा बनने जा रहा है.

सबसे कामयाब एमपी3 प्लेयर

ऐपल के प्रमुख टिम कुक ने कंपनी की ताज़ा कमाई के बारे में एक चर्चा के दौरान कहा, "मेरे ख़्याल से कुछ वक़्त से हम सब जानते हैं कि आईपॉड का व्यापार घट रहा है."

उन्होंने हमेशा की तरह भारी मुनाफ़े का ऐलान किया लेकिन यह भी बताया कि आईपॉड की बिक्री पिछले साल के इसी समय के मुकाबले 52 फ़ीसदी गिरी है, जिसके और गिरने की आशंका है.

कंपनी के लिए न तो यह बुरी ख़बर है और न ही अप्रत्याशित. जो लोग पहले आईपॉड खरीदना पसंद करते अब या तो आईफ़ोन ख़रीद रहे हैं या आईपैड.

लेकिन आईपॉड के लिए यह बुरी ख़बर है. बहुत से लोगों के अनुसार ऐपल को आईफ़ोन और आईपॉड के दौर तक लाने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है.

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption साल 2008 के चौथी तिमाही में दो करोड़ बीस लाख आईपॉड बेचे गए थे.

जब साल 2007 में आईफ़ोन को लॉंच किया गया था, तब स्टीव जॉब्स ने मज़ाक में कहा था कि "यह आज तक बनाया गया हमारा सबसे अच्छा आईपॉड है."

और वह सही कह रहे थे- अपने ऐप्स और स्मार्टनेस के साथ आईफ़ोन के चलते आईपॉड की ज़रूरत नहीं थी, अगर आप इसे खरीद सकें तो.

आईएचएस के मोबाइल विश्लेषक इयान फ़ॉग कहते हैं, "हालांकि 2006 में आईपॉड अच्छा-ख़ासा चल रहा था लेकिन फिर भी ध्यान देने की बात यह है कि ऐपल ने एक ऐसा स्मार्टफ़ोन बनाया जिसमें पहले दिन से ही आईपॉड की क्षमता थी."

उन्होंने कहा, "उन्हें ऐसा उत्पाद बनाने में डर नही लगा जो उसके पहले से सफ़ल उत्पाद के लिए खतरा बन सकता है. उन्होंने सोचा, अगर हम नहीं करेंगे तो कोई और कर लेगा."

फिर भी आईपॉड सबसे ज़्यादा बिकने वाला डेडिकेटेड एमपी-3 प्लेयर बना रहा और यह आज भी है.

आईएचएस के अनुसार आईपॉड की बिक्री शीर्ष पर आईफ़ोन लॉंच होने के बाद ही पहुंची. साल 2008 के चौथी तिमाही में दो करोड़ बीस लाख आईपॉड बेचे गए.

और आज भी, 52% की नाटकीय गिरावट के बावजूद आईपॉड भारी मुनाफ़ा कमाता है. जैसे कि पिछली तिमाही में इसका मुनाफ़ा 97 करोड़ 30 लाख डॉलर (करीब 60.72 अरब रुपए) रहा.

वियरेबल उत्पाद

विश्लेषकों का कहना है कि कीमत के अलावा आईपॉड कई वजहों से पसंद किया जाता है. उदाहरण के लिए आईपॉड टच को ऐसा आईफ़ोन माना जाता है जो फ़ोन नहीं है. कहने का मतलब यह है कि इसमें वह सब कुछ है जो आईफ़ोन में है बस फ़ोन करने की क्षमता नहीं है.

फॉग कहते हैं, "आईपॉड टच आज भी उन युवा ग्राहको को आकर्षित करने का महत्वपूर्ण उपकरण है जिनकी उम्र आईफ़ोन के लिए शायद कम है."

वे कहते हैं, "इससे वह ऐपल से जुड़ जाते हैं और ऐप स्टोर से ऐप्स डाउनलोड कर सकते हैं."

इस तिमाही में ऐपल के कुल मुनाफ़े, 87 अरब 40 करोड़ डॉलर (करीब 54 खरब 54 अरब रुपए) के आगे यह बहुत मामूली रक़म है और टेक्नोलॉजी वेबसाइट 'द वर्ज' के अनुसार यह सिर्फ़ "एक शौक" है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

ज़्यादातर जानकार लोगों का मानना है कि भले ही ऐपल निकट भविष्य में आईपॉड को बनाना बंद न करे लेकिन उसमें उल्लेखनीय अपडेट तो नहीं ही होंगे.

कल्टोएफ़मैक डॉटकॉम के लेखक अलेक्स हीथ कहते हैं, "आईपॉड जब तक एक अच्छी क्वालिटी का उत्पाद बना रहता है और इसे बनाने में घाटा नहीं होता, तब तक मुझे तो इसे बंद करने का कोई कारण नज़र नहीं आता."

हीथ और दूसरे विश्लेषक ज़ोर देकर कहते हैं कि आईपॉड को ऐपल उत्पादों में प्रमुख नहीं माना जा सकता. टिम कुक अगर निवेशकों और प्रशंसकों को अपने साथ रखना चाहते हैं तो उन्हें एकदम नए उत्पाद लाने होंगे.

मैकर्यूमर्स डॉटकॉम के मुख्य संपादक एरिक स्लिव्का कहते हैं, "उन्हें नई श्रेणियों में उतरना होगा. ऐपल टीवी के बारे में बहुत वक़्त से सुना जा रहा है और अब अफ़वाह है कि आईवॉच और दूसरे वियरेबल (पहनने वाले) उत्पाद आने वाले हैं."

हीथ कहते हैं, "ऐसा लगता है कि अगर उत्पादन में कोई दिक्कत न हो तो, ऐपल साल 2014 के अंत तक किसी न किसी तरह का वियरेबल डिवाइस उतार देगा."

वे कहते हैं, "इससे या तो ऐपल के स्टॉक उछल जाएंगे या ढह जाएंगे. 2014 बहुत मज़ेदार साल होने वाला है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार