विकीपीडिया के संपादन में महिलाएँ क्यों हैं पीछे

  • 12 अप्रैल 2014
महिला विकिपीडिया

ऑनलाइन विश्वकोश विकीपीडिया का संपादन करने वालों में महिलाओं की भागीदारी मात्र नौ प्रतिशत है.

शिक्षाविदों का कहना है कि इस संख्या को बढ़ाना ही ऑनलाइन विश्वकोश में सुधार की कुंजी है और इसके लिए अब एक अभियान शुरू किया गया है.

स्मिथसोनियन अमेरिकन आर्ट म्यूज़ियम में आर्थिक मंदी के दौर की कलाकार नताली स्मिथ हेनरी के बारे में स्पष्ट जानकारी उपलब्ध है.

लेकिन कुछ समय पहले तक, हेनरी का कोई अस्तित्व नहीं था, कम से कम विकीपीडिया के मुताबिक़.

इसके बाद एक अमरीकी विश्वविद्यालय की छात्रा चेल्सी टुफारोलो ने उनके बारे में एक लेख लिखने का निर्णय लिया.

दुनिया के सबसे बड़े साझा ज्ञानस्रोत के रूप में विख्यात हो चुके विकीपीडिया पर टुफारोलो का यह पहला लेख था.

पुरुष हावी

विकीमीडिया फ़ाउंडेशन के एक सर्वेक्षण के मुताबिक़ विकीपीडिया में योगदान करने वालों में 91 प्रतिशत पुरुष हैं.

म्युज़ियम में मीडिया एवं टेक्नोलॉजी विभाग की उप प्रमुख सारा स्नाइडर का कहना है कि विकीपीडिया दुनिया के ज्ञान के एक बड़े हिस्से को समाहित करना चाहता है.

लेकिन उनका कहना है कि इसे दुनिया भर का नहीं बल्कि आधी आबादी का ज्ञान कहना ज़्यादा सटीक होगा.

अभी विकीपीडिया पर 44 लाख लेख हैं और दुनिया में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली 10 वेबसाइटों में यह लगातार बनी रही है.

हालांकि 2011 में हुए विकीमीडिया के एक अध्ययन में पता चला कि इसके औसत लेखक श्वेत, पढ़े लिखे, कम्प्यूटर ज्ञान से लैस पुरुष हैं जो या तो अमरीका में रहते हैं या यूरोप में.

विकी एजुकेशन फाउंडेशन की बोर्ड सदस्य और ऑक्सीडेंटनल कॉलेज के फ़ेलो एड्रियान वेडविट्ज़ कहते हैं कि इस अंतर का मतलब है कि आधी आबादी के ज्ञान का एक बड़ा हिस्सा छूट जा रहा है.

जब एड्रियान ने अपनी कक्षा में एक दिन विकीपीडिया के मुख्य पृष्ठ को दिखाया तो उन्होंने पाया कि महिलाओं को यहां या तो उपभोग की वस्तु या अपराध की शिकार के रूप में दिखाया जाता है. उन्होंने यह भी दिखाया कि वीकीपीडिया पर अश्वेत लोगों को अपराधी के रूप में दिखाया गया है.

लंबी सूची

उदाहरण के लिए 1950 के दशक से लेकर अब तक पोर्नोग्राफ़िक अभिनेत्रियों की सूची चर्चित मूल अमरीकी महिलाओं के मुक़ाबले तीन गुनी लंबी थी. यहां तक महिला कवियों और खिलाड़ियों की कुल संख्या से भी यह सूची लंबी है.

गलत और उथली सामग्रियों पर अंकुश लगाने के लिए विकीपीडिया ने कुछ मानक तय किए हैं. जैसे, एक व्यक्ति तभी चर्चित है जब उसके बारे में ऐसे विश्वस्त स्रोतों में प्रकाशन या प्रसारण हुआ हो जो निष्पक्ष हैं.

लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि ये दिशा-निर्देश महिला शख्सियतों को जगह बनाने में एक बाधा की तरह हैं क्योंकि ऐतिहासिक रूप से अपने पुरुष समकक्षों के मुक़ाबले महिलाओं को उतना प्रचार या पहचान नहीं मिली है.

टुफारोलो ने जब हेनरी पर लेख लिखा तो कुछ मिनट में ही एक विकीपीडिया संपादक ने इसे मिटाने का सुझाव दे दिया, क्योंकि स्मिथसोनियन में उसके कामों के प्रदर्शन के बावजूद उसे हेनरी महत्वपूर्ण नहीं दिखीं.

आधा ज्ञान

टुफारोलो ने और संदर्भ इकट्ठा किए और सिद्ध किया कि हेनरी क्यों अलग पृष्ठ की हक़दार हैं, लेकिन उनका कहना है कि यह अनुभव धमकाने और हतोत्साहित करने वाला था.

विकीपीडिया रिवोल्यूशन के लेखक एंड्र्यू लिह का कहना है कि अधिक से अधिक महिलाओं की भागीदारी ही सूचना में पक्षपात और अभाव को ख़त्म कर सकती है, ख़ासकर महिलाओं से संबंधित सामग्रियों के मामले में.

विकीपीडिया में सालों से योगदान देने वाले लिह अमरीकी विश्वविद्यालय में विकीपीडिया के बारे में पढ़ाते हैं.

उनके छात्र सप्ताह में एक बार म्यूज़ियम या सांस्कृतिक संस्थाओं का दौरा करते हैं और विकीपीडिया की सूचनाओं को सुधारते हैं.

वो टुफारोलो का उदाहरण देते हुए कहते हैं कि यह एक बड़ा कारण है कि महिलाएं सम्पादन सहयोग नहीं करतीं.

हालांकि विकीपीडिया पर विकीवूमन्स कोलाबोरेटिव और टीहाउस जैसे फोरम नए सहयोगियों की मदद करते हैं.

उम्मीद

स्नाइडर का मानना है कि विकीपीडिया में दिखने वाला लैंगिक भेदभाव असल में व्यापक संस्कृति का हिस्सा है.

वो कहती हैं, ''सार्वजनिक रूप से बातचीत में पुरुष ही हावी होते हैं. इसलिए महिलाओं को और प्रोत्साहित करने की ज़रूरत है.''

महिलाओं के पास पुरुषों की अपेक्षा समय भी कम होता है. हाल ही में हुए एक अध्ययन में पता चला है कि अमरीकी महिलाएं, पुरुषों की अपेक्षा रोजाना एक घंटा ज़्यादा घरेलू काम करती हैं.

कुछ लोगों का कहना है कि विज्ञान, तकनीक, इंजीनियरिंग और गणित में लैंगिक अंतर काफ़ी है और यह भी एक प्रमुख वजह है.

लेकिन जिन क्षेत्रों में महिलाओं का प्रभुत्व है वो विकीपीडिया में इस अंतर को पाटने में महत्वपूर्ण साबित हो सकती हैं. उदाहरण के लिए पत्रकारिता में 67 प्रतिशत, लाइब्रेरी और सूचना विज्ञान में 81 प्रतिशत और म्यूज़ियम अध्ययन में 86 प्रतिशत डिग्री महिलाओं को मिलती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार