गूगल-प्लस प्रमुख ने कहा कंपनी को अलविदा

विक गंडोतरा इमेज कॉपीरइट AFP

सोशल नेटवर्किंग साइट गूगल प्लस का निर्माण करने वाले विक गंडोतरा ने कंपनी छोड़ दी है. गूगल ने इस बात की पुष्टि की है.

भारत में जन्मे गंडोतरा 2007 से गूगल से जुड़े थे और कंपनी में सोशल मीडिया उपाध्यक्ष थे.

गूगल-प्लस के साथ बड़ी संख्या में यूज़र्स के जुड़ने के बाद भी इसे अन्य नेटवर्किंग साइटों विशेष रूप से फ़ेसबुक और ट्विटर से पीछे माना जाता है.

गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी लैरी पेज़ ने कंपनी में "उनकी कड़ी मेहनत और जुनून" के लिए गंडोतरा को धन्यवाद दिया है.

पेज़ ने लिखा है, "आपने कुछ लोगों के साहस और क्षमता के बलबूते पर गूगल प्लस बनाया और मैं आप सभी की कड़ी मेहनत और लगन के लिए बहुत आभारी हूँ. गूगल के बाद आपके भविष्य के लिए शुभकामनाएं. इस बीच हम गूगल-प्लस के प्रशंसकों की संख्या बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत करते रहेंगे."

कंपनी पर असर

गंडोतरा इससे पहले माइक्रोसॉफ्ट में काम कर चुके हैं. उन्होंने डेविड बेसब्रिस की जगह ली थी जो फ़िलहाल गूगल के इंजीनियरिंग विभाग के उपाध्यक्ष हैं.

इमेज कॉपीरइट Google
Image caption गूगल प्लस का कहना है कि उसके यूज़र्स की संख्या 54 करोड़ है

गूगल प्लस की स्थापना जून 2011 में हुई. कंपनी की ओर से जारी आँकड़ों के मुताबिक़ गूगल नेटवर्क से जुड़े यूज़र्स की संख्या 54 करोड़ है.

लेकिन अकसर इस साइट की लोकप्रियता को लेकर विवाद बना रहता है. कुछ लोगों का अनुमान है कि गूगल की योजनाओं में गंडोतरा की विदाई के बाद कमी आएगी.

तकनीकी ख़बरों की वेबसाइट टेकक्रंच ने दो स्रोतों के हवाले से कहा है कि गूगल प्लस के 1000 से 1200 कर्मचारी कंपनी के दूसरे विभागों में स्थानांतरित किए जा रहे हैं.

कंपनी के एक प्रवक्ता ने टेकक्रंच को कहा, "आज़ की ख़बर का गूगल-प्लस की रणनीति पर कोई असर नहीं होने जा रहा है. हमारे पास एक प्रतिभाशाली टीम है जिसके सदस्य यूज़र्स के शानदार अनुभव बरक़रार रखेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार