डिलीट फ़ोटो फिर आ सकते हैं सामने?

  • 13 जुलाई 2014
फ़ोन इमेज कॉपीरइट Getty

एंड्रॉएड फ़ोन को 'फ़ैक्ट्री रिसेट' करने पर भी क्या कुछ डाटा रिकवर किया जा सकता है?

चेक रिपब्लिक की एक डिजिटल सुरक्षा फ़र्म अवास्ट एंटी वाइरस ने सार्वजनिक रूप से उपलब्ध फॉरेंसिक सुरक्षा टूल्स की मदद से फ़ैक्ट्री रिसेट एंड्रॉएड फ़ोन की तस्वीरें रिकवर करने का दावा किया है.

कंपनी का दावा है कि उसने ई-बे के ज़रिए बीस सेकेंड हैंड फ़ोन ख़रीदे. इनसे उसने चालीस हज़ार से ज़्यादा तस्वीरें रिकवर की.

इन तस्वीरों में महिलाओं की 750 से ज़्यादा नग्न और अर्धनग्न तस्वीरें थी और 250 से ज़्यादा तस्वीरों में पुरुष नग्नवस्था में थे.

ज़्यादातर मोबाइल फ़ोन में फ़ैक्ट्री रिसेट का विकल्प होता है जो फ़ोन में मौजूद डाटा को मिटा देता है. अक़्सर लोग अपने फ़ोन को फ़ैक्ट्री रिसेट कर बेच देते हैं.

हालांकि अवास्ट का दावा है कि कुछ फ़ोन सिर्फ़ डाटा के पते को डिलीट करते हैं जबकि डाटा फ़ोन में ही मौजूद रहता है.

विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि डाटा सिर्फ़ फ़ोन को नष्ट करने से ही पूरी तरह समाप्त किया जा सकता है.

'पुराने फ़ोन पर शोध'

इमेज कॉपीरइट thinkstock

अवास्ट का कहना है कि फ़ोन बेचने से पहले सिर्फ़ डाटा डिलीट करने से कुछ नहीं होगा. उन्हें पूरी तरह नष्ट करने के लिए रिराइट करना होगा.

हालांकि अवास्ट ने ये नहीं बताया है कि वह सभी 20 फ़ोन से डाटा रिकवर करने में कामयाब रही या नहीं.

गूगल ने अवास्ट के दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि अवास्ट ने पुराने फ़ोन पर यह शोध किया है और यह नतीजे अभी इस्तेमाल हो रहे एंड्रॉएड फ़ोन पर लागू नहीं होते.

'डाटा एनक्रिप्ट रखें'

गूगल ने कहा है कि फ़ैक्ट्री रिसेट से पहले डाटा को एनक्रिप्ट किया जाना चाहिए ताकि उसे फिर से रिकवर नहीं किया जा सके.

गूगल का कहना है कि यह सेवा पिछले तीन साल से उपलब्ध है.

स्वतंत्र सुरक्षा विशेषज्ञ ग्राहम क्लूले कहते हैं कि यदि आप अपने डाटा की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं तो हमेशा अपने फ़ोन में पिन लॉक लगाकर रखें और डाटा को एनक्रिप्ट रखें.

(बीबीसी हिंदी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार