इबोला से जंग में उम्मीद की किरण

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका में टीके लगाए जाने के बाद बंदरों की लंबे समय तक इबोला वायरस से लड़ने की क्षमता देखी गई है.

इस हफ्ते इन टीकों का मनुष्यों पर भी परीक्षण शुरु हो जाएगा.

वैज्ञानिकों का कहना है कि इससे आने वाले समय में मनुष्यों पर इन टीकों के परीक्षण के सफल होने की संभावना बढ़ गई है.

अमरीका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में किए गए परीक्षणों में पाया गया कि टीका लगाए जाने से पांच हफ्तों तक बंदर इबोला से सुरक्षित रहते हैं. इस टीके में इबोला डीएनए और एक वायरस का मिश्रण किया गया है.

'दस महीने तक सुरक्षा संभव'

वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर टीके की अधिक डोज़ दी जाए तो ये इबोला से 10 महीने तक की सुरक्षा दे सकता है.

इमेज कॉपीरइट AFP

शोध के परिणाम नेचर मेडिसिन पत्रिका में छपे हैं. इस टीके के मनुष्यों पर परीक्षण इस हफ्ते अमरीका में शुरु हो जाएंगे जो बाद में ब्रिटेन और अफ्रीका में भी होंगे.

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि अब तक पश्चिमी अफ्रीका में इबोला वायरस के कारण कम से सम 21 हज़ार लोग मारे जा चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार