अब पता चलेगा, इतना गर्म क्यों है सूर्य

सूरज, नासा इमेज कॉपीरइट NASA JPL CALTECH GSFC

ब्रह्मांड में दूरस्थ आकाशगंगाओं और ब्लैक होल का अध्ययन करने के लिए बने नासा के टेलिस्कोप (नूस्तर) ने सूर्य की एक अनूठी तस्वीर ली है.

इस तस्वीर में सूर्य की सतह से उच्च ऊर्जा वाली एक्स किरणों को निकलते हुए देखा जा सकता है.

सूर्य की विशाल लपटों के ये छोटे संक्षिप्त संस्करण इस बात पर रोशनी डाल सकते हैं कि क्यों सूर्य का बाहरी वातावरण उसकी सतह से कई गुना अधिक गर्म रहता है.

'पागलपन'

इमेज कॉपीरइट Other

नासा की न्यूक्लियर स्पेक्ट्रोस्कोपिक टेलीस्कोप एरे (नूस्तर) को ब्रह्मांड में उत्सर्जित होने वाली उच्च ऊर्जा की एक्स किरणों के अध्ययन के लिए कक्षा में वर्ष 2012 में छोड़ा गया था

अपने दो वर्ष के कार्यकाल में नूस्तर पहले ही ब्लैक होल के बदलाव की रफ़्तार का पता लगा चुका है.

इस तस्वीर से यह साबित हो गया है कि यह सूर्य के बारे में आंकड़े इकट्ठे कर सकता है.

इमेज कॉपीरइट NASAJPLCaltechDSS

नूस्तर अपनी उच्च क्षमता के कारण लंबे समय से चले आ रहे 'नैनोफ्लेयर्स' के अस्तित्व के सवाल को भी हल कर सकता है.

जब नूस्तर को बनाया जा रहा था तभी भौतिकशास्त्री इसे सूर्य के अध्ययन के लिए इस्तेमाल करने के बारे में सोचने लगे थे.

इस मिशन की मुख्य शोधकर्ता और कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ टक्नोलॉजी की प्रोफ़ेसर फ़ियोन हैरिसन कहती हैं, "पहले तो यह पूरा विचार पागलपन लगा था."

लेकिन यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया के भौतिकशास्त्री प्रोफ़ेसर डेविड स्मिथ को उन्होंने सहमत कर लिया.

प्रोफ़ेसर स्मिथ कहते हैं, "नूस्तर हमें सूर्य की अनोखी तस्वीरें मुहैया कराएगा."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार