ये हैं चूहे के दिमाग के इंद्रधनुषी रंग

वेलकम इमेज अवार्ड फ़ाइनलिस्ट इमेज कॉपीरइट BBC World Service

यह रंगीन और गूढ़ तस्वीरें इस साल के वेलकम इमेज अवार्ड के फ़ाइनल में पहुंची तस्वीरें हैं.

इनमें एक ग्रीनफ़्लाई की आंख से लेकर एक मुड़ी हुई रीढ़ तक शामिल है और यह वैज्ञानिक इमेजिंग तकनीक को दिखाती हैं.

यहां हम 20 अंतिम रूप से चुनी गईं तस्वीरें दे रहे हैं. इनमें से कौन तस्वीर अंतिम विजेता बनती है इसका फ़ैसला 18 मार्च को होगा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

यह बोल वीविल (डोडा घुन) है जो किसी शहरी घर के आंगन में पाया जाता है. यह कपास के पौधे पर जीने वाला परजीवी है जो उसी पर अंडे देता है.

अमरीका में बसे डेनियल कारिको ने यह स्कैनिंग इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप कंपोज़िट से लिया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

गोल्फ़ बॉल जैसी यह तस्वीर दरअसल एक ग्रीनफ़्लाई की आंख का एक स्कैनिंग इलेक्ट्रॉन माइक्रोग्राफ़ है जिसे एबर्डिन विश्वविद्यालय के केविन मैकन्ज़ी ने तैयार किया है.

यह आंख हज़ारों एक सी इकाइयों से बनी है, जिन्हें ओमाटिडिया कहा जाता है. हर एक के आगे एक छोटा लेंस होता है. हर लेंस थोड़ी अलग दिशा में केंद्रित होता है और सब मिलकर एक मोज़ेक (पच्चीकारी वाली) तस्वीर बनाते हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

मार्क बार्टले ने यह तस्वीर कैंब्रिज के एडेनब्रूक्स अस्पताल में 79 वर्षीय महिला की पीठ की ली है जिसमें बेहद मुड़ी हुई पीठ नज़र आ रही है.

इस झुकी हुई पीठ को काइफ़ोसिस या 'राजमाता का कूबड़' नाम से जाना जाता है और इसकी वजह से कंधे भी आगे को झुक जाते हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

ये इंद्रधनुषी रंग एक वयस्क चूहे के दिमाग के एक हिस्से की तंत्रिका कोशिका को दिखा रहे हैं.

इस कॉनफ़ोकल माइक्रोग्राफ़ को कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्याय के लुइस दे ला तोरे-यूबीटा ने बनाया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

यह एक बकरी के पेट की तस्वीर है. इसमें बकरी का रेटिकुलम (जालिका) दिखाई दे रही है जो गाय, भेड़ और बकरी में पाई जाती है.

माइकल फ्रैंक ने यह तस्वीर लंदन के रॉयल वेटेनरी कॉलेज में आए एक नमूने से ली है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

रंगीन मॉडर्न आर्ट की दिखने वाली यह तस्वीर एक फ़्रूट-फ़्लाई के तंत्रिका तंत्र का रंगीन प्रस्तुतिकरण है.

एक डिज़िटल रंगीन नक्शा बनाने के लिए ट्रांसमिशन इलेक्ट्रॉन माइक्रोग्राफ़्स को इस्तेमाल किया गया जिससे न्यूरॉन नामक कोशिका दिखाई दे रही है जो एक अंग में संदेश और प्रतिक्रियाएं पहुंचाती है.

इसे अल्बर्ट कारडोना ने तैयार किया है जो वर्जीनिया, अमरीका में हॉवर्ड ह्यूज़ मेडिकल इंस्टीट्यूट के जानेलिया रिसर्च कैंपस में हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

यह तस्वीर एक चूहे के गुर्दे का रंगीन नक्शा है जब वह खाने को ऊर्जा में बदल रहा है. रंगों से रासायनिक क्रिया का पता चलता है.

यह तस्वीर एक दल की कोशिशों का नतीजा है जिसे अमरीका की अलग-अलग जगहों में पांच लोगों ने मिलकर तैयार किया है. ये हैं जैफरसन आर ब्राउन, रॉबर्ट ई मार्क, ब्रायन डब्ल्यू जोन्स, ग्लेन प्रूस्की और नाज़िया आलम.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

किसी नीले पेड़ की शाखाएं पुरकिंजे सेल या न्यूरॉन से निकली हुई हैं, जो एक चूहे के दिमाग में पाई गई हैं.

यह एक स्कैनिंग इलेक्ट्रॉन माइक्रोग्राफ़ है जिसे यूएसएल में स्थित प्रोफ़ेसर एम हॉसेर, सालाह रियूब्लैंड और अर्नंड रोथ ने तैयार किया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

न्यूज़ीलैंड का टॉटारा जानवरों के उस समूह का अवशेष है जो डायनासौरों के समय धरती पर हुआ करते थे. उनका नाम गर्दन के साथ-साथ, पीठ और पूंछ तक फैले कांटों की वजह से पड़ा है. टॉटारा एक माओरी शब्द है जिसका अर्थ है 'कांटेदार पीठ'.

खोपड़ी और अगले पैरों वाले इस माइक्रो-कंप्यूटेड टोमोग्राफ़ी (माइक्रो-सीटी) स्कैन को सोफ़ी रेगनॉल्ट ने तैयार किया है जो लंदन के रॉयल वेटेनेरी कॉलेज में पढ़ रही हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

नीले और हरे रगों में यह तस्वीर एक चूहे के फेफड़ों की है जिसमें माइक्रोपार्टिकल्स गुलाबी नज़र आ रहे हैं.

इन माइक्रोपार्टिकल्स का अध्ययन यह देखने के लिए किया जा रहा है कि क्या वह फेफड़ों तक दवा पहुंचा सकते हैं और जिससे समय आने पर इंसानों में कैंसर के इलाज में मदद मिल सकेगी.

इस तस्वीर को अमरीका के एमआईटी में ग्रेगरी ज़ेटो, एडिलेड तोवार और जेफ़्री वाइकॉफ़ ने तैयार किया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इसी तरह यह स्कैनिंग इलेक्ट्रॉन माइक्रोग्राफ़ मस्तिष्क की एक अकेली कोशिका का है जिसमें एक आयताकार चीरा लगा है.

यह इसलिए है ताकि वैज्ञानिक यह अध्ययन कर सकें कि नैनोमीटर आकार के कण कैसे संवाद करते हैं. यह देखने के लिए कि क्या वह दवाओं को ले जाने के लिए ठीक हैं ताकि ट्यूमरों का इलाज किया जा सके.

इस तस्वीर को खुलॉड टी अल-जमाल, सिरीन टे और माइकल सिसिर्को ने तैयार किया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

मॉरिज़िओ डि एंजिलिस की अगली तस्वीर किसी साइंस फ़िक्शन फ़िल्म की याद दिलाती है.

यह एस्ट्रेसीए परिवार के एक पौधे के परागकण छोड़े जाने का चित्रण है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इस सेपिया टोन वाली तस्वीर को 19वीं सदी के फ्रांसीसी न्यूरोलॉजिस्ट जोसेफ़ जूल्स डेजेराइन की स्टाइल पर बनाया गया है.

लंदन के किंग्स कॉलेज के फ़्लावियो डेल अक्वा की बनाई इस तस्वीर में एक स्वस्थ वयस्क इंसान के दिमाग में तंत्रिका के गुच्छे दिखाए गए हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इस तस्वीर के बीच में स्थित गोल सी कोशिका पर एक नुकीली प्राकृतिक हत्यारी (एनके) कोशिका हमला कर रही है.

ऐसा लगता है कि एनके कोशिका, जो कि प्रतिरोधक तंत्र के एक हिस्से के रूप में बीमारी के लक्षणों को ढूंढती है, एक बड़ा निवाला ले रही है.

यह ज़हरीले रसायन छोड़ेगी जो लाल रंग में दिख रहे हैं जिनसे दूसरी कोशिकाएं स्वयं नष्ट हो जाएगी.

इस बहुत ज़्यादा रिज़्योल्यूशन वाले माइक्रोग्राफ़ को एन डीकमान और एन लॉरेंस ने कैंब्रिज विश्वविद्यालय में तैयार किया है.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

गेराल्डाइन थॉम्पसन ने इंटरेक्टिव मल्टी-सेंसरी यूनिट की यह तस्वीर ली है जिसे अस्पताल में इलाज करवा रहे कुछ ख़ास तरह के बच्चों का ध्यान भटकाने और उन्हें राहत देने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

इस तस्वीर में रॉयल मैंचेस्टर चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल में इस्तेमाल होने वाले उपकरण दिखाए गए हैं.

इमेज कॉपीरइट Anthony Edwards

यह पुराना एनेटॉमी मॉडल सोता हुआ सा लग रहा है जो डब्लिन में मिला था.

फ़ोटोग्राफ़र एंथनी एडवर्ड ने इस नमूने के कूड़े के साथ बाहर फेंके जाने से पहले इसकी तस्वीर ले ली ताकि इसकी उस सहायता को सम्मान दिया जा सके जो इसने शहर के ट्रिनिटी कॉलेज के छात्रों की थी.

इसके अलावा इस प्रतियोगिता की अंतिम चार तस्वीरें आप पहले ही ऊपर देख चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार