'धरती पर गिरेगा' बेकाबू रूसी यान

इमेज कॉपीरइट

रूस का अंतरिक्ष यान एम-27 एम शुक्रवार को धरती पर गिरेगा और नष्ट हो जाएगा.

ये यान पिछले हफ्ते लॉन्च होने के बाद बेकाबू हो गया था. ये जानकारी वैज्ञानिकों ने दी है.

ये मानवरहित कार्गोशिप मंगलवार को कजाख़स्तान से छोड़ा गया लेकिन कुछ ही पलों में इससे संपर्क टूट गया.

अंतरिक्ष यान एम-27 एम जैसे ही धरती के वायुमंडल में प्रवेश करेगा, इसके टुकड़े टुकड़े हो जाएँगे. इस पर तीन टन जरूरी सामान और उपकरण मौजूद हैं.

हालांकि वैज्ञानिकों के अनुसार इसके टुकड़े ज़मीन पर नहीं बल्कि समुद्र में गिरेंगे.

ये अंतरिक्ष यान धरती से करीब 420 किमी दूर परिक्रमा कर रहे अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर छह लोगों के एक दल को खाद्य सामग्री, ईंधन, ऑक्सीजन और कपड़ों की आपूर्ति करने वाला था.

इमेज कॉपीरइट EPA NASA
Image caption इस यान के बेहद छोटे टुकड़े ही धरती की सतह पर पहुंचेंगे.

लेकिन संपर्क टूट जाने के कारण यह नियंत्रण से बाहर हो गया.

रूस अंतरिक्ष एजेंसी रोसकोसमोस का कहना है कि जीएमटी के मुताबिक यान के गिरने की संभावना गुरुवार 22.23 बजे से शुक्रवार 6.55 के बीच है.

रोसकोसमोस का ये भी कहना है, "रूसी यान के केवल कुछ बेहद छोटे टुकड़े ही धरती की सतह तक पहुंचेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं. )

संबंधित समाचार