चार लाख साल पुराने क़त्ल के मिले सबूत

इमेज कॉपीरइट Other

उत्तरी स्पेन की एक गुफा में 4 लाख 30 हज़ार साल पुराने जानलेवा हमले का सबूत मिला है.

पिट ऑफ़ बोन्स नामक खुदाई स्थल में वैज्ञानिकों को कम से कम 28 लोगों के अवशेष मिले हैं. शोधकर्ताओं ने इनमें से एक खोपड़ी का अध्ययन किया.

वैज्ञानिकों का मत है कि इस खोपड़ी पर दो गंभीर चोटें हैं जो 'कई बार हमला' करने से लगी हैं. इन चोटों से पता चलता है कि ये चोटें 'जान लेने के मक़सद से' मारी गई होंगी.

इस अध्ययन के नतीजे प्लस वन जर्नल में प्रकाशित हुए हैं.

'शुरू से हिंसक'

वैज्ञानिकों के अनुसार इन अवशेषों से पता चलता है कि मानवीय संस्कृति के प्रारंभ से ही हिंसा इसका अभिन्न अंग रही है.

इस खोपड़ी के सीटी स्कैन से पता चला है कि उस पर दो चोटों के निशान बिल्कुल एक जैसे हैं, जिससे पता चलता है कि दोनों चोटें एक ही चीज़ से मारी गई हैं.

अध्ययन से जुड़ी मैड्रिड स्थित सैलद कार्लोस III इंस्टिट्यूट की शोधकर्ता डॉक्टर नोहेमी सैला ने बीबीसी को बताया, "यह आदमी दो लोगों के बीच हुई जानलेवा लड़ाई में मारा गया था."

जिस जगह ये अवशेष मिले हैं वैज्ञानिक उसका पिछला तीन दशक से अध्ययन कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

साल 2013 में यहां मिली एक हड्डी से निकाले गए डीएनए से यह अनुमान लगाया गया था कि ये अवशेष, निएनडरथ्राल वंशावली के मानव के शुरुआती वंशजों के हैं.

शोधकर्ताओं ने अपने रिसर्च पेपर में कहा है कि बहुत संभव है इस तरह की हिंसा उस समय के सामाजिक प्रचलन का अंग थी.

सैला कहती हैं, "इससे पता चलता है कि इंसानों के बीच जानलेवा लड़ाई का इतिहास कम से कम 4 लाख 30 हज़ार साल पुराना है."

वह कहती हैं, "यानि, पिछले 5 लाख सालों में हमारा बरताव ज़्यादा नहीं बदला है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार