ट्रांसलेटर पर गूगल और माइक्रोसॉफ्ट भिड़े

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

ट्रांसलेशन के बाज़ार में एक नई जंग छिड़ गई है.

मज़ेदार बात ये है कि ये जंग दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट और दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन कंपनी गूगल के बीच है.

और जंग का मैदान है गूगल का प्ले स्टोर.

गूगल अभी तक ट्रांसलेशन के बाज़ार में सबसे आगे रहा है. गूगल ट्रांसलेटर लोगों में बहुत लोकप्रिय है.

गूगल ने हाल में वर्ड लेंस भी लॉन्च किया था जिसकी मदद से आप वीडियो ट्रांसलेशन भी कर सकते हैं. अभी तक माइक्रोसॉफ्ट को उसके टक्कर का कोई एप्लीकेशन नहीं मिल सका है.

गूगल से बढ़िया

माइक्रोसॉफ्ट के पास वर्ड लेंस जैसा कुछ भी नहीं है, न ही उसका ट्रांसलेशन ऐप गूगल जितना कारगर है.

लेकिन माइक्रोसॉफ्ट का टेक्स्ट-टू-स्पीच सॉफ्टवेयर शायद गूगल से बढ़िया है. और ये सॉफ्टवेयर एंड्रायड को भी सपोर्ट करता है.

अगर आपने एंड्रायड वॉच पहन रखी है तो उस पर कुछ भी बोलिए और वो पचास भाषाओं में से किसी एक को चुनकर आपको उसका ट्रांसलेशन सुना सकता है.

इसके अलावा यदि आप किसी शब्द का उच्चारण नहीं जानते हैं तो माइक्रोसॉफ्ट का ऐप इसमें भी आपकी मदद करेगा.

झगड़े की भाषा

और अगर आप ये भी चाहते हैं कि वॉच कोई पूरा वाक्य आपके लिए बोल दे तो वो करना भी संभव है.

इमेज कॉपीरइट Google

यदि इनमें से किसी भी सर्विस को आप बार-बार सुनना चाहते हैं तो बस उसको बुकमार्क कर लीजिए और जब समय हो सुनते रहिए.

दुनिया की दो सबसे बड़ी कंपनियों के बीच ग्राहकों के लिए हो रहे झगड़े की भाषा भले आप ठीक से ना समझें लेकिन एक बात तो साफ़ है कि दोनों कंपनियां आपकी रोज़ की ज़िंदगी का हिस्सा बनने में कोई कसर नहीं छोड़ने वालीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार