एक आंख खोलकर सोते हैं घड़ियाल

घड़ियाल इमेज कॉपीरइट AP

क्या आपने कभी किसी घड़ियाल को सोते हुए देखा है. अगर हां, तो आपने देखा होगा कि सोते वक्त उसकी एक आंख खुली रहती है जिससे वो आपको देख सकता है.

पर क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों है. इसी बात की खोज कुछ ऑस्ट्रेलियाई जीव विज्ञानियों ने की है.

जरनल ऑफ एक्सपेरिमेंटल बायोलॉजी में छपे एक लेख के मुताबिक घड़ियाल सोते वक्त अपनी एक आंख खुली रखते हैं, जिससे वो सबकुछ देख सकते हैं. वैज्ञानिकों के मुताबिक ऐसा इसलिए होता है क्योंकि एक समय पर घड़ियाल के मस्तिष्क का एक ही हिस्सा बंद होता है.

ऑस्ट्रेलियाई जीव शास्त्रियों की ओर से किए गए प्रयोग में तीन घड़ियाल के बच्चों को उत्तरी क्वीन्सलैंड से लॉ ट्रोब यूनिवर्सिटी के एक बड़े जल जीवालय में रखा गया. इस दौरान इन पर कैमरों के ज़रिए 24 घंटे निगरानी रखी गई.

प्रयोग के दौरान ये पाया गया कि घड़ियाल सोते वक्त अपनी एक आंख खुली रखते हैं.

लेख के मुताबिक सोते वक्त घड़ियालों के मस्तिष्क का एक हिस्सा निगरानी रखने का काम करता है. जबकि दूसरे हिस्से को आराम मिलता है.

हालांकि वैज्ञानिकों का मानना है कि एक आंख खोलकर सोना जीवों में आम बात है. कई किस्म के पक्षी, डॉलफिन मछली और दरियाई घोड़े भी एक आंख खोलकर ही सोते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)