गूगल के टारगेटेड ऐड कैसे रोकें?

कम्प्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल इमेज कॉपीरइट Thinkstock

जितने भी समय आप ऑनलाइन रहते हैं, उतने समय आप जिस भी वेबसाइट पर जाते हैं, गूगल को आपके बारे में सब कुछ पता होता है.

चूंकि गूगल को आपकी सर्फिंग के बारे में सब पता होता है इसलिए आपको उन चीज़ों के विज्ञापन दिखाता है जिनके बारे में आप इंटरनेट पर जानकारी ढूंढ रहे हैं.

ये समझना ज़रूरी है कि ये विज्ञापन कैसे तय किये जाते हैं. उसके लिए अगर आपके पास गूगल अकाउंट है तो इस पेज पर एक बार ज़रूर जाना चाहिए. यहां पर डिफ़ॉल्ट सेटिंग ऐसा होता है जिससे आपको आपकी रुचि के अनुसार विज्ञापन दिखाई देंगे.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

आपकी सर्फिंग की आदत और देखे हुए यूट्यूब वीडियो के अनुसार गूगल आपको विज्ञापन दिखाता है.

पर अगर आप अपने स्क्रीन के ऊपरी हिस्से पर 'ऑफ' चुनते हैं तो ये विज्ञापन आपको दिखने बंद हो जाएंगे. उसकी जगह आपको दूसरे विज्ञापन दिखेंगे जो आपके ब्राउज़िंग की आदत के अनुसार नहीं होंगे.

उसके बाद आपको एक और बदलाव करना है- 'कंट्रोल साइंड आउट एड्स', जो कि पेज के निचले हिस्से में मिलेगा. इसमें ऑफ चुनने से अगर आप दूसरी वेबसाइट पर लॉग इन करेंगे तो वहां पर भी आपको अपनी ब्राउज़िंग की आदत के अनुसार विज्ञापन नहीं दिखाए जाएंगे.

इमेज कॉपीरइट PA

यहां पर आपको दो जगह ऑफ पर क्लिक करना होगा. स्क्रीन के ऊपरी हिस्से में जहां पर गूगल के विज्ञापन उसके वेबसाइट के अलावा दिखाई देते हैं और निचले हिस्से में जो गूगल सर्च के समय विज्ञापन दिखाई देते हैं.

लेकिन ये सब करने के बावजूद आपको विज्ञापन दिखाई देंगे. बस ये होगा कि आपको जो विज्ञापन दिखेंगे वो आपके ब्राउज़िंग की आदत के हिसाब से नहीं होंगे.

अगर आप एंड्राइड स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं तो अपने बारे में कम से कम जानकारी गूगल को दीजिये.

ये समझने के लिए कि गूगल के विज्ञापन आपके लिए कैसे दिखाए जाते हैं, गूगल के इस वीडियो को ज़रूर देखिये. ये देखकर आप गूगल के अलग अलग कंट्रोल को भी समझ सकेंगे जो आपके लिए फायदेमंद होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार