जब हम अपनी कारों को बुलाया करेंगे...

इमेज कॉपीरइट AP

टेस्ला मोटर्स के मालिक एलन मस्क ने कहा है कि भविष्य में जो कारें बग़ैर ड्राइवर के नहीं चल सकेंगी, वे चलन से बाहर हो जाएंगी.

उनके मुताबिक़, अजूबा यह नहीं होगा कि बग़ैर ड्राइवर के ही गाड़ियां चलेंगी. ड्राइवर से चलने वाली कारें अजूबा समझी जाएंगी.

मस्क ने उम्मीद जताई, "भविष्य में सभी कारें इलेक्ट्रिक और स्वचालित होंगी, हम अपनी कारों को बुलाया करेंगे."

उनका ख़्याल है कि तब ख़ुद ड्राइव करना ज़रूरत नहीं, शौक़ होगा.

एक उद्यमी ने लॉस एंजेलिस में बीबीसी से बात करते हुए यह जानकारी भी दी कि ऑटोमोबाइल उद्योग में क़दम रखते हुए अब एपल प्रतिद्वंद्वी इलेक्ट्रॉनिक कार बना रहा है.

हालांकि एपल ने आधिकारिक रूप से इलेक्ट्रिक कार बनाने का ऐलान नहीं किया है. लेकिन उसने हाल में ऑटोमोबाइल से जुड़े कई इंटरनेट डोमेन का रजिस्ट्रेशन करवाया है.

इसमें 'एपल डॉट कार' और 'एप्पल डॉट ऑटो' नाम शामिल हैं.

मस्क ऑटोमोबाइल के क्षेत्र में आईफ़ोन निर्माता को प्रतिद्वंद्वी के रूप में नहीं देखते.

वे कहते हैं, "एपल के आने से ऑटोमोबाइल उद्योग का विस्तार ही होगा."

दुनिया का सबसे अधिक बिकने वाला इलेक्ट्रिक-कार ब्रांड बनने के लिए टेस्ला की होड़ निसान और बीएमडब्ल्यू से है. टेस्ला अभी घाटे में चल रही है.

हाल के महीनों में टेस्ला कंपनी की मुश्किलें और बढ़ गई हैं. टेस्ला के कई इंजीनियरों को उसके प्रतिद्वंद्वी चीन समर्थित फराडे फ्यूचर और एपल ने अपने यहां काम पर रख लिया है.

(यदि आप बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो करने के लिए इस लिंक पर जाएं.)

संबंधित समाचार