बायडू ऐप से लाखों यूज़र्स का डाटा लीक

बायडू ऐप इमेज कॉपीरइट Reuters

सुरक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि चीन की अग्रणी इंटरनेट कंपनी बायडू के कोड का इस्तेमाल कर हज़ारों ऐप लोगों की निजी जानकारियां लीक कर रहे हैं.

यूनिवर्सिटी ऑफ़ टोरंटो के सुरक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक, डाटा लीक से लाखों चीनी नागरिकों पर असर होने की संभावना है.

इन सूचनाओं के दायरे में उपभोक्ता की भौगोलिक स्थिति, उसके सर्च और वेबसाइट खोलने से संबंधित जानकारियों समेत उसके उपकरणों के आईडी नंबर तक शामिल हैं.

हालांकि बायडू ने कहा है कि उसने असुरक्षित कंप्यूटर कोड की समस्या को हल कर लिया है.

यह कोड एक सॉफ़्टवेयर डेवलपमेंट किट में पाया जाता है, जिसे एंड्राइड फ़ोन के लिए ऐप बनाने और विंडोज़ पर प्रोग्राम बनाने में इस्तेमाल किया जा सकता है.

बायडू ने खुद एंड्राइड और विंडोज़ के लिए ब्राउज़र बनाने में इसका इस्तेमाल किया है. कई अन्य कंपनियों ने भी इस किट का इस्तेमाल किया है.

टोरंटो सिटिज़ेन्स लैप के शोधकर्ताओं ने एक रिपोर्ट में कहा है कि बायडू किट का इस्तेमाल करते हुए ऐप और ब्राउज़र को लाखों बार डाउनलोड किया जा चुका है.

इमेज कॉपीरइट Getty

लंबे समय तक चलने वाले रिसर्च का हिस्सा होने के रूप में लैब ने चीन में प्राइवेसी और निजी सूचनाओं के इस्तेमाल पर शोध किया.

पिछले साल इस टीम ने अलीबाबा के ब्राउज़र में खामियां खोजी थीं. इस ताज़ा रिपोर्ट में बायडू कोड में कई सुरक्षा और प्राइवेसी वाली खामियां पाई गई हैं.

जीपीएस और सर्च आइटम समेत कुछ आंकड़े सादे अक्षरों में भेजे जाते हैं.

सिटिजेन्स लैप ने कहा है कि पिछले नवंबर में कंपनी को सूचना दिए जाने के बाद बायडू ने कोड में मौजूद कुछ बग की समस्या को हल कर लिया है.

हालांकि संवेदनशील सूचनाओं को लेकर अभी भी कमज़ोर इनक्रिप्शन स्कीम जारी है.

बायडू ने कहा है कि वो व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए अपने यूज़र्स की सूचनाएं इकट्ठी कर रहा था और कभी-कभार अपने पार्टनर्स के साथ इन सूचनाओं को साझा भी करता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार