ऑनलाइन डेटिंग है आसान, पर रखिए ध्यान

एश्ले मैडिसन इमेज कॉपीरइट AFP

अगर आप ज़िंदगी के दूसरे और तीसरे दशक में हैं तो ऑनलाइन डेटिंग ऐप अपने स्मार्टफोन पर ज़रूर आजमा सकते हैं लेकिन जिन लोगों की उम्र उनसे ज़्यादा है उनके लिए शायद किसी को ऑनलाइन ढूंढना आसान नहीं है.

एंड्रॉयड पर ऐसे डेटिंग ऐप हैं जो आपको अपने पसंद के दोस्त ढूंढने में मदद करेंगे. लेकिन डेटिंग ऐप के बारे में बताने से पहले ये बताना ज़रूरी है कि आप अपनी सुरक्षा के लिए भी सावधान रहें.

कभी भी अपने बारे में ज़्यादा जानकारी शुरुआत में नहीं देना चाहिए और बेहतर रहेगा कि ऐसे किसी ऐप के लिए आप एक अलग नंबर रखें ताकि ज़रूरत पड़े तो आप उसे स्विच ऑफ़ करके शांति से रह सकते हैं.

डेटिंग ऐप या वेबसाइट पर रजिस्टर करते समय कुछ डेटिंग ऐप पर अपने फ़ेसबुक अकाउंट से लॉग इन करेंगे तो आपको उन वेबसाइट पर ज़्यादा स्कोर दिया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट AFP

अगर आप अपना फ़ोन नंबर भी दे देंगे तो और भी प्वॉइंट मिलेंगे. ऑनलाइन डेटिंग कंपनी टिंडर पर आप फ़ेसबुक अकाउंट से ही लॉग इन कर सकते हैं.

इसका मतलब यह है कि जब आप लॉग इन करेंगे तो आपकी तस्वीरें दूसरे लोगों को दिखाई देंगी. लेकिन क्या आप ऑनलाइन इतनी आसानी से अपने फ़ोन नंबर और पूरी पहचान देना चाहेंगे? इसका जवाब आपको ख़ुद ही तय करना है.

टिंडर पर अगर आप अगर अपनी लोकेशन नहीं बताना चाहेंगे तो उसके लिए टिंडर प्लस का इस्तेमाल करना होगा और उसके लिए आपको कुछ पैसे ख़र्च करने पड़ेंगे.

अगर पूरे साल का सब्सक्रिप्शन लेते हैं तो करीब ढाई हज़ार रुपये लगेंगे या महीने के करीब छह सौ. टिंडर और ट्रूली मैच नाम के दूसरे ऐप पर आपको बातचीत शुरू करने के बाद 'अनमैच' करने का विकल्प होता है, अगर किसी से दोस्ती करने के बाद उन्हें पसंद नहीं करते हैं.

कई बार आपको ऐसे लोगों से मुलाकात होगी जो अपना नाम और अपने बारे में जानकारी नहीं देना चाहते हैं. ऑनलाइन दुनिया ऐसी ही है इसलिए आपको पहले ये तय करना होगा कि अपने बारे में आप शुरुआत में कितनी जानकारी देना चाहते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

अपना प्रोफाइल बनाते समय थोड़ी सावधानी बरतें ताकि बाद में आपको अपने बारे में कुछ जानकारी डिलीट नहीं करनी पड़े.

अगर फ़ेसबुक या गूगल प्लस का इस्तेमाल करके आप डेटिंग वेबसाइट या ऐप पर लॉग इन करते हैं तो हो सकता है आपके कॉमन दोस्त होंगे.

कुछ लोगों के लिए शुरुआत में इससे थोड़ी परेशानी हो सकती है इसलिए सोशल नेटवर्क साइट के ज़रिये डेटिंग करने के पहले थोड़ा सावधान रहिये.

अक्सर कई डेटिंग वेबसाइट या ऐप पर आपके पास के लोगों के बारे में जानकारी आपको पहले दिखाई देगी. ये आपको तय करना है कि आप अपने शहर या उसके आस पास के लोगों को जानना चाहेंगे या नहीं.

अगर दूर के लोगों से एक बार जानकारी लेकर आप ऑनलाइन ये समझने की कोशिश करेंगे कि डेटिंग वेबसाइट या ऐप कैसे काम करते हैं तो आपको इसका थोड़ा अंदाज़ा हो जाएगा.

इमेज कॉपीरइट PA

कुछ डेटिंग वेबसाइट या ऐप ऐसे भी होते हैं जिनपर 'ट्रस्ट स्कोर' काम करता है. यानि आप जितने ज़्यादा लोग के साथ कनेक्ट करेंगे, आपका ट्रस्ट स्कोर उतना ज़्यादा होगा.

ऐसे वेबसाइट या ऐप आपको ये भी विकल्प देते हैं कि आप आप दूसरों को अपने प्रोफाइल देखने देंगे या नहीं. थोड़े दिन तक मैसेज और बातचीत के बाद आप अपने प्रोफाइल उन्हें देखने की इजाज़त दे सकते हैं और उसके बाद अगर मिलना चाहें तो वो एक-दूसरे पर निर्भर होगा.

वू नाम के डेटिंग ऐप पर अपनी तरह के लोग से आपको कनेक्ट करने की कोशिश की जाती है. आपको अगर खेल या फ़िल्म पसंद है तो दूसरे लोग जिन्हें ये पसंद है वो आपको सर्च में दिखाई देंगे. अपने प्रोफाइल के साथ आप यहां सात सेकंड की वॉयस रिकॉर्डिंग भी दूसरों के लिए रख सकते हैं.

कई बार जब आपके पास कम जानकारी देकर काम चलाने का विकल्प है तो आप वही चाहेंगे. लेकिन ओके क्यूपिड नाम का ऐप आपसे काफी ज़्यादा जानकारी मांगता है.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

ऐसी जानकारी देकर आप जब दूसरों को खोजने के लिए सर्च करते हैं तो आपके पास भी काफी विकल्प होता है. उम्र, लोकेशन, नौकरी, आय, धर्म और दूसरी जानकारी में से फ़िल्टर करके आप डेटिंग के लिए दोस्तों को चुन सकते हैं.

लेकिन ऐसे सर्च के लिए एक, तीन या छह महीने के लिए ओके क्यूपिड पर मेंबर बनना ज़रूरी है जिसके लिए पैसे खर्च करना पड़ेगा.

एक चीज़ तो साफ़ है. डेटिंग के लिए सही दोस्त चुनने के लिए पैसे तो ख़र्च करने ही होंगे और जब डेट पर आप जाएंगे तो कुछ पैसे और खर्च करने होंगे. तो जेब थोड़ा भारी रखिये और सबसे ज़रूरी है अपनी सुरक्षा का ख्याल रखिये.

अगर आप डेटिंग ऐप इस्तेमाल करते हैं तो अपने एक दो-दोस्तों को ज़रूर बता कर रखिये ताकि वो आपका ध्यान रख सकें.

ऑनलाइन दोस्त बनाने के बाद पहली बार किसी से भी रेस्तरां या किसी सार्वजनिक जगह में ही मिलें ताकि आप उस व्यक्ति को पहले जान सकते हैं. ये आपकी सुरक्षा के लिए है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार