कैसे करें इंटरनेट पेज को हिंदी में ट्रांसलेट

गूगल इमेज कॉपीरइट Getty

इंटरनेट पर अगर कोई भी कंटेंट को आप हिंदी में ट्रांसलेट करना चाहते हैं तो उसके लिए गूगल ट्रांसलेट इस्तेमाल कर सकते हैं.

जब गूगल ने 28 अप्रैल 2006 को गूगल ट्रांसलेट लॉन्च किया था तब ये सोचा भी नहीं जा सकता था कि अलग अलग भाषाओँ के लोगों के बीच ये इतना पसंद किया जाएगा.

पिछले दस सालों में इसमें तरह-तरह के नए फीचर जोड़े गए हैं.

अगर आप गूगल क्रोम के इस्तेमाल करते हैं तो आप गूगल ट्रांसलेट के एक्सटेंशन को यहां से डाउनलोड कर सकते हैं. उसके बाद ट्रांसलेशन का आपका काम मिनटों में हो जाएगा.

अगर आप फ़ायरफ़ॉक्स ब्राउज़र इस्तेमाल करते हैं तो उसके लिए भी गूगल ट्रांसलेटर डाउनलोड कर सकते हैं. अगर आप ये ट्रांसलेटर डाउनलोड करेंगे तो यूट्यूब पर के सब टाइटल भी ट्रांसलेट हो जाएंगे.

इमेज कॉपीरइट Microsoft

अगर आप एप्पल के लैपटॉप या कंप्यूटर इस्तेमाल करते हैं तो वो गूगल ट्रांसलेट या माइक्रोसॉफ्ट का बिंग ट्रांसलेट इस्तेमाल करके आपका काम करता है. लेकिन माइक्रोसॉफ्ट के एज ब्राउज़र के लिए अभी गूगल ट्रांसलेट नहीं उपलब्ध है.

गूगल ट्रांसलेट शुरू किये जाने के दस साल बाद ये सेवा हिंदी समेत 90 भाषाओँ में उपलब्ध है.

हर दिन इसे करीब 20 करोड़ लोग इस्तेमाल करते हैं. चूंकि ये इतनी भाषाओँ में काम करता है इसीलिए दुनिया भर में इसका सबसे ज़्यादा इस्तेमाल होता है.

बिंग, फ़ायरफ़ॉक्स जैसे ब्राउज़र के साथ भी ऐसे एक्सटेंशन मिलेंगे जो ऐसा काम करते हैं लेकिन जब आप इन सभी को इस्तेमाल करेंगे तो क्रोम पर गूगल ट्रांसलेट का काम सबसे ज़्यादा पसंद आएगा.

गूगल ट्रांसलेट के बारे में वीडियो आप यहां देख सकते हैं.

इंटरनेट पर अब भी 50 फीसदी से ज़्यादा कंटेंट अंग्रेजी में है. लेकिन जैसे जैसे स्मार्टफोन के इस्तेमाल से इंटरनेट दुनिया के हर कोने में पहुंच रहा है वैसे वैसे अंग्रेजी की अहमियत कम हो रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार