गूगल ऑटो अब सभी गाड़ियों के लिए काम करेगा

गूगल का लोगो. इमेज कॉपीरइट EPA

दुनिया भर की गाड़ियों पर गूगल की नज़र अब और पैनी हो गई है.

गूगल ने पिछले हफ़्ते ये घोषणा की कि एंड्राइड ऑटो अब आपके स्मार्टफ़ोन पर काम करने को तैयार है. इसके लिए आपको सबसे नई गाड़ी की भी ज़रूरत नहीं होगी.

एंड्राइड ऑटो को हर कार चालक के स्मार्टफ़ोन तक पहुंचने में अभी कुछ महीने और लग सकते हैं, लेकिन कई ऐप उसके साथ काम करने को तैयार हैं.

गूगल प्ले स्टोर पर जो ऐप एंड्राइड ऑटो के साथ काम करेंगे उन्हें आप यहां देख सकते हैं.

एंड्राइड ऑटो को लोगों की पहली पसंद बनाने के लिए गूगल अब कोई कसर नहीं छोड़ रहा है.

गूगल नाउ को लांच करके आप एंड्राइड ऑटो के साथ काम कर सकेंगे और अपनी आवाज़ का इस्तेमाल करके कोई दूसरा ऐप भी लॉंच कर सकते हैं. ये सब कुछ आप सड़क से बिना अपनी नज़र हटाए हुए कर सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

जो गाड़ियाँ एंड्राइड ऑटो को सपोर्ट करती हैं, उनपर मैसेज, कॉल और दूसरी सर्विसेज तो आपको आसानी से मिलेंगी ही. बस अपनी गाड़ी को स्मार्टफ़ोन के यूएसबी पोर्ट से कनेक्ट कर दीजिए और और एंड्राइड ऑटो आपका काम कर देगा. गूगल ब्लूटूथ के ज़रिए काम करने की भी क़ाबिलियत पर काम कर रहा है.

एंड्राइड ऑटो फ़ीचर को इस्तेमाल करने के लिए अब तक यूएसबी का तार ज़रूरी था. लेकिन अब पहली बार गूगल ने कहा है कि लोग अपनी गाड़ियों को एंड्राइड ऑटो से बिना किसी तार के भी कनेक्ट कर सकेंगे.

फिलहाल ये संभव नहीं है, लेकिन एंड्राइड ऑटो की मदद से जल्दी ही गाड़ी के बारे में सभी जानकारी आपके स्मार्टफ़ोन पर होगी.

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

एंड्राइड ऑटो को सफल बनाने के लिए कई कार कंपनियां गूगल के साथ काम कर रही हैं. 2014 में लॉंच किए गए इस भागीदारी में 28 ऑटो कंपनियों ने गूगल का साथ दिया है.

हालांकि, 2015 और 2016 में लॉंन्च की गई कई गाड़ियों में ये फ़ीचर पूरी तरह शामिल नहीं किया गया है.

अगर आपके पास एंड्राइड 5.0 या उसके बाद के ऑपरेटिंग सिस्टम वाला स्मार्टफ़ोन है, तो यह आपकी गाड़ी के साथ काम कर सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार