'अब केजरीवाल कुछ दिन तो शांत रहेंगे'

इमेज कॉपीरइट Bhasker Solanki, BBC
Image caption अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने मुंह के ऑपरेशन के लिए बंगलुरू में हैं, जहां नारायणा अस्पताल में हमेशा खांसी के लिए उनका ऑपरेशन हुआ.

केजरीवाल पिछले 40 सालों से ख़ासी से परेशान थे.

बुधवार को ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने कहा है कि केजरीवाल के मुंह के लिए उनकी जीभ बड़ी है. इस कारण जब भी उन्हें किसी वजह से एलर्जी होती है, उनके मुंह की लार हवा के रास्ते में चली जाती है.

उनके मुंह में तालु और अलीजिह्वा भी बड़ी है जिस कारण उनकी बड़ी जीभ के लिए उनका मुंह छोटा पड़ा जाता है.

ऑपरेशन के बाद उन्हें राय दी गई है कि वे अभी कुछ दिन तक बात न करें. इस पर भारत में सोशल मीडिया में चर्चा हो रही है और लोग चुटकियां ले रहे हैं.

जगदीश अग्रवाल ने लिखा, "सही शब्दों में केजरीवाल की जीभ उनके मुंह के लिए बड़ी है."

Image caption केजरीवाल के ऑपरेशन पर एक ट्विटर यूज़र का ट्वीट

लिबरल ऑफ़ न्यू दिल्ली ने तंज कसा, "अरविंद केजरीवाल अपने ऑपरेशन के लिए बंगलुरू गए क्योंकि वे चाहते हैं दिल्ली के विश्व स्तर की मोहल्ला क्लीनिक का इस्तेमाल केवल दिल्ली की जनता करे."

परीक्षित ने लिखा, "शुक्र है केजरीवाल के ऑपरेशन का, वो अब कुछ दिन तक चुप रहेंगे."

Image caption केजरीवाल के ऑपरेशन पर एक ट्विटर यूज़र का ट्वीट

आशि ने लिखा, "डॉक्टरों ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि केजरीवाल की जीभ बड़ी है, लेकिन हम यह पहले से ही जानते थे. उम्मीद है कि वे ऑपरेशन के बाद इसे काबू में रख सकेंगे."

दिव्या ने लिखा, "केजरीवाल के लिए आसान नहीं रहा, उन्हें हमेशा ही खांसी की शिकायत रही. लेकिन अब हमें पता चला है कि उनकी यह समस्या तो पुरानी थी. उनकी जीभ बड़ी है और मुंह छोटा था."

Image caption केजरीवाल के ऑपरेशन पर एक ट्विटर यूज़र का ट्वीट

अडॉल्फ़ हिटलर नाम के एक ट्विटर हैंजल ने लिखा, "सट कहें तो वे आज के युग के नीलकंठ हैं. उन्होंने वो सारा ज़हर पिया है जो मोदी और एलजी ने दिल्ली में फैलाया था. "

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)