एक तस्वीर, जिसने लोगों को रुला दिया

इमेज कॉपीरइट Julie Apicella/Facebook

एक ऐसी तस्वीर, जो पूरी दुनिया में वायरल हो रही है. लेकिन इसने लोगों का दिल भी तोड़ दिया है.

ब्रिटेन के वाल्सोकेन की जूली एपिसेला ने फ़ेसबुक पर एक तस्वीर शेयर की है, जो इस समय सुर्ख़ियों में है.

कैंसर के प्रति जागरुकता फैलाने की उनकी कोशिश की लोग सराहना कर रहे हैं और उनकी हिम्मत की दाद दे रहे हैं.

लेकिन उनकी शेयर की गई तस्वीर ने लोगों को भावुक भी किया है.

दरअसल एपिसेला ने जो तस्वीर फ़ेसबुक पर शेयर की है, उसके एक हिस्से पर 2015 की तस्वीर है. इसमें उन्होंने अपनी बेटी की मुस्कुराती हुई तस्वीर लगाई है.

लेकिन दूसरे हिस्से में 2016 की तस्वीर लगी है, जिसकी पृष्ठभूमि वही है, लेकिन उस हिस्से में उनकी बेटी नहीं है.

दरअसल उनकी बेटी की कैंसर के कारण पिछले साल दिसंबर में मौत हो गई थी.

एपिसेला ने फ़ेसबुक पोस्ट पर लिखा है- ''स्कूल फोटो टाइम. लेकिन इस बार कोई बहुत ख़ास ग़ायब है. मेरी बेटी एमिली. कल्पना कीजिए कि आपकी स्कूल जाने की इस साल की तस्वीर आपकी आख़िरी तस्वीर है, जो आपने ली होगी और वो सिर्फ़ एक याद बनकर रह जाएगी.

एपिसेला की बेटी एमिली को वर्ष 2013 में किडनी के कैंसर का पता चला था. उस समय एमिली पाँच साल की थी. पिछले साल दिसंबर में एमिली की मौत हो गई.

ब्रिटेन में ये परंपरा सी बन गई है कि स्कूल जाने के पहले दिन (बैक टू स्कूल) बच्चे अपनी तस्वीर खिंचवाते हैं. इसी परंपरा का निर्वाह करते हुए एपिसेला ने तस्वीर तो खींची लेकिन उनकी इस तस्वीर ने लोगों का दिल तोड़ दिया.

एपिसेला ने अपने पोस्ट के माध्यम से बच्चों में होने वाले कैंसर के प्रति जागरुकता फैलाने की अपील की है.