'हर दिल में बसती थी. वो हर दिल अजीज हस्ती थी'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

31 अक्टूबर 1984 यानी वो तारीख, जब इंदिरा गांधी ने आखिरी सांस ली.

सुरक्षाकर्मी बेअंत सिंह और सतवंत सिंह ने इंदिरा गांधी की 31 अक्टूबर को सुबह 9 बजे के करीब गोली मारकर हत्या कर दी थी. आज इंदिरा गांधी की 32वीं पुण्यतिथि है. ट्विटर पर सोमवार सुबह से #IndiraGandhi टॉप ट्रेंड रहा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंदिरा गांधी को ट्विटर पर श्रद्धांजलि दी.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption मोदी ने दी श्रद्धांजलि

राहुल गांधी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से लिखा गया, "अपनी दादी को याद करते हुए. मेरी नजर में सबसे बहादुर महिला. अपनी ज़िंदगी और मौत दोनों में ही उन्होंने अपना सब कुछ देश को दिया. उनका साहस हमें मुश्किलों से निकलने में मदद करे."

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि देते हुए राहुल गांधी

@kamyamht हैंडल से काम्या ने लिखा, "हर दिल में बसती थी. वो एक हर दिल अजीज हस्ती थी. याद उसको आज भी हर कोई करता है. वो जो उससे प्यार करता था और जो उससे खूब डरता था."

@i_am_manish हैंडल से मनीष चौधरी ने लिखा, "इतिहास कुछ भी हो, आयरन लेडी इंदिरा गांधी बहादुर लीडर्स में से एक थीं. उनकी हत्या देश के लिए बड़ा मोड़ सबित हुई."

इमेज कॉपीरइट Twitter

ट्विटर पर इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हुए दंगों की आलोचना करने वाले भी रहे.

@manishengineer9 हैंडल से मनीष ने लिखा, "इंदिरा गांधी की वजह से दिल्ली में हजारों सिखों को मारा गया. एक आदमी के गुनाह की सजा पूरे समाज को. कहां का न्याय है?"

इमेज कॉपीरइट Twitter

@SikhGenocide84 हैंडल से लिखा गया, "इंदिरा गांधी ऑपरेशन ब्लू स्टार और पंजाब को दो, तीन दशकों तक जलाने और 32 साल पहले हुए जनसंहार के लिए जिम्मेदार थीं."

‏@ramtoindia हैंडल से रमेश ने लिखा, "इंदिरा गांधी ने जिस ताकत से शासन किया. बगैर सरदार वल्लभभाई पटेल के वो संभव नहीं था. भारतीय राजनीति की दो महान हस्तियां."

इमेज कॉपीरइट Twitter

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)