ओआरओपी पर मोदी ने झूठ बोला: केजरीवाल

इमेज कॉपीरइट Screenshot, Akshay Malhotra, Twitter

'वन रैंक वन पेंशन' की मांग पर भारतीय सेना के एक पूर्व सैनिक राम किशन की कथित आत्महत्या के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया है कि 'सरकार ने सैनिकों के साथ छलावा किया है.'

केजरीवाल ने एक वीडियो संदेश जारी कर, 'वन रैंक वन पेंशन' (ओआरओपी) लागू करने की प्रधांनमंत्री मोदी की घोषणा को झूठ बताया है.

दिल्ली के जंतर-मंतर पर बुधवार को 70 साल के पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल ने कथित तौर पर ज़हर पीकर आत्महत्या कर ली थी.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी जब दिल्ली के आरएमएल अस्पताल में राम किशन के परिवार से मिलने पहुँचे तो उन्हें अंदर नहीं जाने दिया गया, जिस पर उन्होंने कहा- 'भैया नया हिंदुस्तान बन रहा है.'

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार ओआरओपी लागू करने के संबंध में कई पूर्व सैनिक अपनी मांगें रक्षा मंत्रालय को बताना चाहते हैं. सरकार की लागू की गई इस योजना से वे संतुष्ट नहीं थे.

हालांकि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और वित्त मंत्री अरुण जेटली वन रैंक वन पेंशन लागू करने के बारे में कई बार घोषणा कर चुके हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption इसी सप्ताह रक्षा मंत्री ने कहा था कि मोदी सरकार देश की पहली सरकार है जिसने ओआरओपी के बारे में केवल वायदे नहीं किए बल्कि उसे लागू किया है.

इस घटना के बाद भारत में सोशल मीडिया पर OROP (ओआरओपी) ट्रेंड कर रहा है और कई लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

केजरीवाल ने एक ट्वीट में लिखा "भाजपा के राज में, किसान और जवान, दोनों परेशान."

इमेज कॉपीरइट AFP

केजरीवाल ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया, " सर्जिकल स्ट्राइक्स के बाद सैनिकों का हौसला बढ़ाने की बजाय सरकार ने सैनिकों की विकलांगता पेंशन में कटौती की. सर्जिकल स्ट्राइक्स के नाम पर वोट बैंक की राजनीति हो रही है. "

डॉ अजॉय कुमार ने आरोप लगाया, "राम किशन ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि ऐसे हालात पैदा किए गए जिसके कारण उनकी मौत हो गई."

काशिम अंसारी ने पूछा है, "हर चीज़ का श्रेय आरएसएस को देने वाले मोदी जी को इस पूर्व सैनिक की कथित आत्महत्या का श्रेय किसको देना चाहिए?"

इमेज कॉपीरइट Samar Anarya, Twitter

समर सिंह ने लिखा, "प्रधानमंत्री मोदी के दुख जताने का मॉडल - आम आदमी पार्टी की रैली में किसान गजेंद्र सिंह की मौत पर ट्वीट किया, राम किशन की आत्महत्या के बाद ओआरओपी पर बोले गए झूठ के बारे में ख़ामोशी."

अमन शर्मा ने लिखा, "जिस देश का किसान, जवान आत्महत्या करने लगा हो, तो समझ लेना एक बार देश फिर गुलामी की ओर बढ़ रहा है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)