'कभी एग्जिट पोल पर भरोसा मत करना'

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption डोनल्ड ट्रंप जीत की ओर.

अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव के रुझानों को देखकर दुनिया भर से सोशल मीडिया पर रिएक्शन दर्ज हो रहे हैं. इनमें अमरीकी नागरिकों के रिएक्शन पर गौर किया जाए, तो ज्यादातर लोग इसे लेकर 'हैरान' नज़र आते हैं. भले ही वो ट्रंप समर्थक हो या फिर हिलेरी समर्थक.

चुनावी रुझान कितने रोमांचक हैं, इसका अंदाज़ा @octaviaspencer हैंडल से ट्वीट कर रहीं ऑक्टाविया के ट्वीट से लगता है. वो लिखती हैं, "जबरदस्त मानसिक दबाव है. स्ट्रेस में ज्यादा खाना खाया जा रहा है. और निगाहें टीवी से नहीं हट रहीं."

ट्रंप की बढ़त को लेकर अप्रवासी अमरीकी लोगों में काफी हलचल है. ‏@Meena_Thiru हैंडल से मीरा लिखती हैं कि वो यह देखकर काफ़ी हैरान हैं कि ट्रंप के जीत की तरफ बढ़ते ही कनाडा की इमिग्रेशन साइट क्रैश कर गई है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

लेकिन अमरीका में रह रहे अल्पसंख्यकों के डर को ज़ाहिर करते हुए आदम सालेह ने @omgAdamSaleh हैंडल से लिखा, "रीमा केवल 5 साल की है. वो जानती है कि वो मुस्लिम है और जब उसे ट्रंप के जीतने की ख़बर मिली, तो वह रोने लगी."

‏@dancottrell हैंडल से डेन कॉट्रेल ने लिखा, "कुछ लोग कहा करते थे कि ब्रेक्सिट एक ग़लती थी. पर क्या अमरीकी लोगों ने अमरीका में भी वैसा ही कुछ किया है."

वीकली स्टैंडर्ड के एडिटर बिल क्रिस्टल ने ट्विटर पर लिखा, "एक सबसे बड़ा सबक जो इस चुनाव से मिलता है, वो यह कि एग्जिट पोल पर कभी भरोसा नहीं करना चाहिए."