ट्रंप की बीवी व्हाइट हाउस में क्यों नहीं रहेंगी?

इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप जब जनवरी में व्हाइट हाउस में रहने के लिए आएंगे तो उनके साथ उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप और बेटे बैरन ट्रंप नहीं होंगे.

ट्रंप परिवार के प्रवक्ता ने बयान जारी कर कहा, "बैरन ट्रंप अभी अपना स्कूल पूरा कर रहे हैं. वो क्लास बीच में छोड़कर दूसरे स्कूल में शिफ़्ट नहीं हो सकते. इसलिए फ़िलहाल मेलानिया और वो न्यूयॉर्क में ट्रंप टॉवर में ही रहेंगे."

इस बात पर अमरीका में बहस छिड़ गई है. सोशल मीडिया पर जहां कई लोगों ने ट्रंप परिवार के इस फ़ैसले का समर्थन किया है वहीं कई लोगों ने विरोध भी किया है.

पॉमेला नाम की एक ट्विटर यूज़र ने लिखा, "व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति का परिवार साथ जाता है. ये सांकेतिक रूप में पूरे अमरीका के लिए गर्व का विषय होता है. राष्ट्रपति के परिवार को फ़र्स्ट फ़ैमिली कहा जाता है. ऐसे में मेलानिया का डोनल्ड ट्रंप के साथ ना जाना बेहद चौंकाने वाला फ़ैसला है."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

वहीं कई लोग इस बात पर मज़ाक कर रहे हैं और कह रहे हैं कि, "व्हाइट हाउस का फ़र्नीचर और वहां का इंटीरियर मेलानिया ट्रंप को पसंद नहीं आया."

फ़ेसबुक और ट्विटर पर तो कई यूज़र्स ने इस बात पर ही कयास लगाने शुरू कर दिए कि क्या ट्रंप और मेलानिया के बीच सब कुछ ठीक चल रहा है?

लेकिन डोनल्ड ट्रंप के इस फ़ैसले का समर्थन करने वाले भी हैं.

एक ट्विटर यूज़र ने लिखा, "डोनल्ड और मेलानिया ट्रंप ने वही फ़ैसला किया जो एक ज़िम्मेदार परिवार को लेना चाहिए."

वैसे मेलानिया ट्रंप, बैरन की देखभाल और स्कूली शिक्षा में व्यस्त रहने की वजह से चुनाव प्रचार के दौरान अपने पति के साथ भी कम ही नज़र आईं.

इससे पहले अमरीका के इतिहास में सिर्फ़ दो बार ऐसा हुआ है जब राष्ट्रपति या उनका परिवार व्हाइट हाउस में रहने नहीं गया.

व्हाइट हाउस हिस्टोरिकल एसोसिएशन के हिसाब से अमरीका के पहले राष्ट्रपति जॉर्ज वॉशिंगटन और उनकी पत्नी मार्था वॉशिंगटन व्हाइट हाउस में नहीं रहे थे क्योंकि उस वक़्त तक इसका निर्माण ही नहीं हुआ था.

जबकि अमरीका के नौवें राष्ट्रपति विलियम हेनरी हैरीसन की पत्नी एना हैरीसन उनके साथ व्हाइट हाउस में रहने नहीं जा पाई थीं क्योंकि शपथ ग्रहण करने के एक महीने बाद ही विलियम हेनरी हैरीसन का निधन हो गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे