सोशल मीडिया: 'पाकिस्तानी चायवाला बॉलीवुड हीरो से बेहतर'

इमेज कॉपीरइट Reuters

पाकिस्तान के ज्यादातर सिनेमाघर मालिक बॉलीवुड फिल्मों पर लगे बैन को हटाने के लिए तैयार हैं.

जल्द ही पाकिस्तानी सिनेमाघरों में बॉलीवुड फिल्मों की स्क्रीनिंग होगी.

पढ़ें: पाकिस्तान में भारतीय फ़िल्मों से बैन हटा

उड़ी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनजर सितंबर में भारतीय फ़िल्मों के प्रदर्शन पर पाकिस्तान में रोक लगा दी गई थी.

इधर भारत में भी फिल्म निर्माताओं ने पाकिस्तानी कलाकारों के साथ भविष्य में काम न करने की बात कही थी.

पचास साल बाद पाकिस्तानी फ़िल्म ऑस्कर में

बॉलीवुड फिल्मों पर बैन हटाने का कुछ लोग समर्थन कर रहे हैं, तो कई लोग इसका विरोध भी कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

सोमवार को ट्विटर पर #DontLiftBollywoodBan यानी 'बॉलीवुड से बैन न हटाया जाए' टॉप ट्रेंड में शामिल रहा.

इमेज कॉपीरइट Twitter

@Nomysahir हैंडल से लिखा गया, ''पाकिस्तानी चायवाला बॉलीवुड हीरो से ज्यादा बेहतर है. हमें अपने एक्टर्स का समर्थन करना चाहिए.''

मुस्ताक अली ने लिखा, ''ये सुनना अजीब है कि बॉलीवुड फिल्मों से बैन हट रहा है. हम उन्हें पैसा कमाने का मौका दे रहे हैं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

अली ने ट्वीट किया, ''ज्यादातर हिंदी फिल्में इस लायक नहीं होती हैं कि उन पर वक्त ज़ाया किया जाए. अपना वक्त और रुपये सलीके से खर्च कीजिए.

बता दें कि पाकिस्तान ने पहली बार 1965 में लगाया था. ये बैन इंडिया-पाकिस्तान के युद्ध की वजह से लगाया गया था.

सलमान लिखते हैं, ''सिनेमाघर मालिकों की शर्मनाक हरकत. वो हमारे साथ बुरा करते हैं और हम उनकी फिल्म रिलीज करने जा रहे हैं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

मदिहा ने लिखा, ''पाकिस्तानी सिनेमा के मालिकों मेरी विनती है कि ऐसा मत करो.'' ‏@bj_jutt2 ने ट्वीट किया, ''क्या आप ये कल्पना कर सकते हैं कि आरएसएस आपकी पाकिस्तानी फिल्मों को रिलीज करने की इजाजत देगा. वो हमेशा विरोध करेंगे.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)