सोशल- बीवी की ड्रेस पर कमेंट, शमी का करारा जवाब, जावेद का समर्थन

इमेज कॉपीरइट Twitter

भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी और तेज़ गेंदबाज मोहम्मद शमी की ये तस्वीर सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोर रही है.

इसकी वजह है वो परिधान जिसमें वो अपनी पत्नी हसीन जहां के साथ नज़र आ रहे हैं. कुछ लोग इस तस्वीर पर आपत्ति जता रहे हैं.

मोहम्मद शमी ने सोमवार को ट्विटर पर लिखा, ''ये दोनों मेरी ज़िंदगी और जीवन साथी हैं. मैं अच्छी तरह जानता हूं क्या करना है और क्या नहीं. हमें अपने अंदर देखना चाहिए, हम कितने अच्छे हैं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

मोहम्मद शमी के कुछ चाहने वालों को उनकी पत्नी का ये परिधान पसंद नहीं आया जिस पर उन्होंने इस्लाम और अल्लाह का हवाला देकर उन्हें इससे बचने की सलाह दी है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

सलमान अंसारी नामक एक व्यक्ति ने लिखा है, ''शर्म करो सर आप एक मुस्लिम हो बीवी को कपड़े में रखो और कुछ सीखो अमला अली से और भी बहुत सारों से.''

मोहम्मद बिलाल रिज़वी ने लिखा है, ''शर्म आनी चाहिए शमी, मरना है एक दिन ये मत भूलो बीवियों को कैसे रखा जाए अपने साथी क्रिकेटर पठान ब्रदर से सीखो.''

इनके अलावा कुछ लोग शमी को याद दिला रहे हैं कि वो एक सुन्नी मुसलमान हैं तो कुछ लोग पूछ रहे हैं कि क्या आप मुसलमान हैं?

लेकिन क्रिकेट और अन्य क्षेत्रों से जुड़े कई लोगों ने इन टिपणियों पर आपत्ति जताई है. क्रिकेटर मोहम्मद क़ैफ़ ने इन टिप्पणियों को शर्मनाक बताया.

इमेज कॉपीरइट Twitter

जानेमाने फ़िल्मकार जावेद अख़तर ने इस विवाद पर ट्वीट किया- "श्रीमति शमी ने जो ड्रेस पहन रखी है वो बहुत ही एलिगेंट और डिगनिफ़ाइड है. यदि किसी को समस्या है तो वो दिमागी तौर पर बीमार है."

इमेज कॉपीरइट AFP

वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने हैरानी जताई है कि यदि इस तरह की टिप्पणियां सही हैं तो बड़ी शर्मनाक बात है क्योकि मुद्दे और भी हैं और शमी के मामले से किसी को कोई मतलब नहीं होना चाहिए.

इमेज कॉपीरइट Twitter

मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां और उनकी बिटिया की इस तस्वीर पर भी कुछ लोग टीका-टिप्पणी करते रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट twitter

उत्तर प्रदेश के अमरोहा में 3 सितम्बर 1990 को जन्में मोहम्मद शमी अहमद क्रिकेट के मैदान में अपनी तेज़ गेंजबाज़ी के लिए जाने जाते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे